छोटे कारोबारियों के लिए अच्छी खबर, दिल्ली हाट में महज 500 रुपये में मिलेंगी दुकानें

 दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार ने दिल्ली हाट सहित पर्यटन विभाग के सभी परिसरों में कलाकारों और शिल्पकारों को बेहद रियायती दर पर दुकानें उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। इससे छोटे कारोबारियों को राहत मिलेगी। सामान्य दिनों में जिन दुकानों के लिए हजारों रुपये देने पड़ते थे उनके लिए महज पांच-छह सौ रुपये ही देने होंगे। दिल्ली सचिवालय में बुधवार को उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की अध्यक्षता में दिल्ली पर्यटन एवं परिवहन विकास निगम की बोर्ड बैठक में यह निर्णय लिया गया।
इस मौके पर मनीष सिसोदिया ने कहा कि लॉकडाउन के कारण जो कलाकार और शिल्पकार दिल्ली हाट तथा अन्य स्थानों पर महंगी दुकानें लेने की स्थिति में नहीं हैं, उन्हें बेहद किफायती दर पर दुकानें उपलब्ध कराई जाएंगी। इसके तहत ही दिल्ली हाट तथा अन्य स्थानों पर खाने पीने की दुकानें लगाने वालों को भी बड़ी छूट देने का निर्णय लिया गया है। विभिन्न स्थानों पर इनका लॉकडाउन के दौरान का किराया माफ करने का निर्णय हुआ है। कई मामलों में 31 अक्टूबर तक सामान्य किराये में काफी रियायत देने का भी निर्णय हुआ है।
उन्होंने कहा कि इससे लोगों को अपने कारोबार को फिर से व्यवस्थित करने का अवसर मिलेगा। साथ ही निगम को भी इसी माध्यम से भविष्य में राजस्व की प्राप्ति होगी।
पार्किंग संचालकों को भी राहत
दिल्ली हाट में स्थित पार्किंग भी लॉकडाउन के दौरान बंद हो गई थी। वहीं अंधेरिया मोड़ स्थित नेचर बाजार की पार्किंग भी प्रभावित हुई। अब इन पार्किंग के संचालकों को राहत देते हुए 20 मार्च से तीन जुलाई तक के शुल्क को माफ करने का निर्णय लिया गया है।
यह भी जानें
दिल्ली हाट और द गार्डन ऑफ फाइव सेंस के वास्तुकार प्रदीप सचदेवा थे। वह सार्वजनिक स्थानों, सड़क डिजाइनिंग, रिवरफ्रंट विकास समेत अन्य शहरी नवीनीकरण परियोजनाओं के लिए वास्तुकला में भारत के अग्रणी वास्तुकारों में से एक थे।

Loading...
loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...