चुनाव आयोग ने बीजेपी MLA को भेजा नोटिस, फेसबुक पर पोस्ट की थी अभिनंदन की तस्वीर

चुनाव आयोग ने बीजेपी विधायक ओम प्रकाश शर्मा को प्रचार के लिए भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन की तस्वीर का इस्तेमाल करने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया है.
लोकसभा चुनाव तारीखों की घोषणा के साथ ही 10 मार्च से आदर्श आचार संहिता लागू हो चुकी है. ऐसे में चुनाव आयोग भी सख्ती से पेश आ रहा है. इसी को लेकर चुनाव आयोग ने बीजेपी विधायक ओम प्रकाश शर्मा को प्रचार के लिए भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन की तस्वीर का इस्तेमाल करने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया है. साथ ही आयोग ने फेसबुक से तस्वीर हटाने का आदेश भी दिया है.
ओम प्रकाश शर्मा ने बीते 1 मार्च को अपने ऑफिशियल फेसबुक अकाउंट से ये पोस्टर शेयर किया था. इसमें अभिनंदन की तस्वीर के साथ पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की भी तस्वीर थी. इस पोस्टर में कैप्शन लिखा है, ‘झुक गया पाकिस्तान, लौट आया देश का वीर जवान.’
दिल्ली से बीजेपी विधायक ओपी शर्मा ने बताया, ‘बीती रात चुनाव आयोग ने मुझे नोटिस जारी किया है. मैंने यह तस्वीर चुनाव तारीखों के ऐलान से पहले पोस्ट की थी. समझ नहीं पा रहा हूं कि चुनाव आयोग कैसे काम कर रहा है.’

आचार संहिता लागू होने के बाद से ही चुनाव आयोग रैली और भाषणों के साथ-साथ सोशल मीडिया पर भी नजर बनाए हुए है. इससे पहले भारत निर्वाचन आयोग ने शनिवार को कहा था कि आचार संहिता लागू होने के बाद कोई भी राजनीतिक दल सेवारत सैन्य कर्मी (अभिनंदन या किसी भी जवान) के नाम का इस्तेमाल करेगा तो उस पर सख्त कार्रवाई होगी.बताया जा रहा है कि चुनाव आयोग को अपनी सी-विजिल ऐप पर इसकी शिकायत मिली थी.

बता दें चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव में वोटरों को प्रभावित करने वाली गतिविधियों को रोकने के लिए सी-विजिल ऐप लॉन्च किया है. लोकसभा चुनाव को देखते हुए चुनाव आयोग ने एक ऐप तैयार की है. C-VIGIL नाम के इस ऐप की मदद से नागरिक चुनावी आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले नेताओं की शिकायत कर सकते हैं.

चुनाव के दौरान कोई भी नेता या पार्टी यदि शराब, कंबल, कपड़े, बर्तन, रुपये या तोहफे बांटते नजर आते हैं तो नागरिक उनकी शिकायत इस ऐप की मदद से कर सकते हैं.

इससे पहले चुनाव आयोग सभी राजनीतिक दलों को उस पुराने गाइडलाइंस के बारे में फिर से पालन करने का निर्देश दे चुका है, जिसमें कहा गया था कि सेना की तस्वीर का इस्तेमाल चुनाव प्रचार में नहीं करें. यह निर्देश तब आया जब कई जगहों पर बीजेपी के चुनावी पोस्टर में अभिनंदन की तस्वीर दिखी और विपक्ष ने इस पर सवाल उठाए. आयोग की ओर से लिखे पत्र के अनुसार डिफेंस मिनिस्ट्री ने सैनिकों के तस्वीर के इस्तेमाल पर आपत्ति जताई थी.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button