चीन के फिर आतंकी मसूद के बचाव में आने पर PM मोदी की चुप्पी उनकी कमजोरी की निशानी: राहुल

नई दिल्ली। मौजूदा बेहद ही गंभीर हालातों में भी आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के सरगना मौलाना मसूद अजहर को वैश्विक आतेकवादी घोषित किये जाने की राह में फिर एक बार चीन द्वारा अड़ंगा लगाये जाने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी और उनकी नीतियों को आड़े हाथों लिया है।
गौरतलब है कि राहुल ने ट्वीट किया है कि कमजोर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से डरे हुए हैं और चीन के खिलाफ उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकलता है। साथ ही तंज के लहजे में कहा कि यह प्रधानमंत्री की चीन के लिए कैसी ‘नमो’ डिप्लोमेसी है! चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के गुजरात दौरे, पीएम मोदी के चीन दौरे और उनसे दिल्ली में गले मिलने पर भी राहुल गांधी ने तंज कसा है।
वहीं अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि ‘मोदी की चीन कूटनीति’ गुजरात में शी के साथ झूला झूलना, दिल्ली में गले लगाना, चीन में घुटने टेक देना रही है। दरअसल एक बार फिर इस तरह से चीन के रवैये के बावजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रतिक्रिया नहीं आने पर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर तंज कसा।
उन्होंने गुरुवार सुबह 9:50 बजे एक न्यूज लिंक शेयर करते हुए ट्वीट किया। गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘कमजोर मोदी शी चिनफिंग से डरे हुए हैं। जब चीन भारत के खिलाफ कदम उठाता है तो उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकलता है।’ जबकि कांग्रेस ने निशाना साधा और आरोप लगाया कि एक बार फिर से ‘विफल मोदी सरकार की विफल विदेश नीति’ उजागर हुई।
जिसके तहत पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘आज फिर आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को चीन-पाकिस्तान गठजोड़ ने आघात पहुंचाया है। आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में यह एक दुखद दिन है। उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि 56 इंच वाली गले लगने की कूटनीति (हगप्लोमेसी) और झूला-झुलाने के खेल के बाद भी चीन-पाकिस्तान का जोड़ भारत को लाल-आंख दिखा रहा है । एक बार फिर एक विफल मोदी सरकार की विफल विदेश नीति उजागर हुई।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button