घमासान के बीच सिब्बल ने कहा-सबसे खराब दौर से गुजर रही कांग्रेस

जुबिली न्यूज डेस्क
कांग्रेस में मचे घमासान के बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने पार्टी को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि इस समय कांग्रेस अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है।
सिब्बल ने कहा कि ऐसे समय में जब कांग्रेस अपने ऐतिहासिक रूप से सबसे खराब दौर से गुजर रही है, पार्टी को ऐसे नेतृत्व की आवश्यकता है तो 24 घंटे काम करने को तत्पर रहे।
ये भी पढ़े: अर्थव्यवस्था को लेकर वित्त मंत्री ने क्या कहा?
ये भी पढ़े:  ‘मोदी लहर के सहारे 2022 के चुनावों में नैया पार नहीं होगी’
ये भी पढ़े:  कोरोना : कई राज्यों की वित्तीय स्थिति चरमराई

कांग्रेस में नेतृत्व बदलने की मांग को लेकर लिखी गई चिट्ठी पर अब तक घमासान जारी है। सोनिया को चिट्ठी लिखने वाले 23 नेताओं के समूह में कपिल सिब्बल भी शामिल हैं। मचे घमासान के बीच सिब्बल ट्विटर पर अपनी बात रख रहे हैं। अब इस मुद्दे पर उन्होंने एक अखबार को दिए साक्षात्कार में विस्तार से बात की है।
हिन्दुस्तान टाइम्स को दिए साक्षात्कार में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा, ‘हमने जो चिट्ठी लिखी है अगर वह लोगों तक पहुंच जाए तो उन्हें पता चल जाएगा कि यह गांधी परिवार सहित किसी का भी अपमान करने का प्रयास नहीं है। वास्तव में हमने अब तक नेतृत्व द्वारा प्रदान की गई सेवाओं की सराहना की है।’
उन्होंने कहा कि हमारा इरादा सिर्फ और सिर्फ पार्टी को पुनर्जीवित करना है। हम इसके पुनरुद्धार में भागीदार बनना चाहते हैं। यह पार्टी संविधान और कांग्रेस की विरासत के प्रति हमारी प्रतिबद्धता है और पूर्ण विश्वास है कि कांग्रेस को एक ऐसी सरकार का विरोध करने के लिए एक-दूसरों का सहयोग करने आवश्यकता है, जिसने उस बुनियाद को बर्बाद किया है, जिस पर भारतीय गणतंत्र बना है।’
ये भी पढ़े: रवि किशन ने अपनी ही पार्टी के विधायक से क्यों मांगा इस्तीफ़ा
ये भी पढ़े: सुशांत केस: रिया चक्रवर्ती ने सुलझाए कई अनसुलझे राज

पार्टी के गिरते प्रदर्शन को गिनाते हुए उन्होंने कहा कि 2014 और 2019 के चुनाव परिणाम यह दर्शाते हैं कि कांग्रेस पार्टी ऐतिहासिक रूप से अपने सबसे खराब दौर से गुजर रही है।
चिट्ठी लिखने के सवाल पर उन्होंने कहा कि ‘ सीडब्ल्यूसी की बैठक में जब सभी मौजूद थे तब इस चिट्ठी को सबके पास सर्कुलेट किया जाता तो वे सभी यह महसूस कर पाते कि यह (पत्र) कांग्रेस को मजबूत करने और पुनर्जीवित करने के बारे में है। उन लोगों में से एक ने ‘देशद्रोही’ शब्द का इस्तेमाल किया। काश उस बैठक में उपस्थित लोगों ने उसे फटकार लगाई होती।’
सिब्बल ने कहा, पार्टी संविधान के मद्देनजर संगठन की कुछ चीजों को फिर से स्थापित करने की जरूरत है। मुझे पार्टी और इसके संविधान का थोड़ा ज्ञान है। पार्टी के संविधान के हिसाब से कई ऐसी चीजें लाए जाने की जरूरत है जो कि अभी तक यहां नहीं है। पत्र का इरादा और भाषा का संर्दभ पार्टी संरचना से था न कि जगह से।
ये भी पढ़े: ममता बनर्जी ने नीट पर कांग्रेस को क्यों समर्थन दिया?
ये भी पढ़े: फेसबुक को ऐड देने में बीजेपी ने फ्लिपकार्ट को छोड़ा पीछे 

लखीमपुरी कांग्रेस कमेटी द्वारा पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद के खिलाफ कार्रवाई की मांग के सवाल पर सिब्बल ने कहा जितिन प्रसाद को बुधवार को उत्तर प्रदेश में एक कांग्रेस जिला समिति द्वारा टारगेट किया गया जो पत्र पर हस्ताक्षर करने के लिए उनके खिलाफ कार्रवाई चाहते थे।
उन्होंने कहा, ‘यह या तो चाटुकारों द्वारा किया गया हमला है या उन लोगों का मनोबल गिराने का निर्देश है, जिनकी अंतरात्मा ने उन्हें बोलने दिया। यह गंभीर चिंता का विषय है क्योंकि यहां ऑडियो और वीडियो हैं, जो साबित करते हैं कि जितिन प्रसाद को किसी उच्च पद पर बैठे शख्स के इशारे पर टारगेट किया गया था।’
यह पूछे जाने पर कि क्या उन्हें भी निशाना बनाए जाने की आशंका है के सवाल पर सिब्बल ने कहा कि हमें कोई डर नहीं है। हम दिल से कांग्रेसी हैं और हम बिना किसी डर के कांग्रेसी बने रहेंगे। सिब्बल ने कहा मैं और बीजेपी उत्तरी ध्रुव और दक्षिणी ध्रुव हैं। हम कांग्रेस की विचारधारा के पक्षधर हैं और मौजूदा व्यवस्था (केंद्र में) का डटकर विरोध करते हैं।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button