गो- मंत्रालय के नाम पर गोल्फ खेलना चाहती है शिवराज सरकार: कमलनाथ

भोपाल में 02 अक्टूबर 2018 को प्रदेश काग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने मंत्रिमण्डल द्वारा कलियासोत क्षेत्र में गायों के चारागाह की जमीन पर गोल्फ कोर्स बनाने के प्रस्ताव पर सैद्धांतिक मंजूरी दिये जाने के निर्णय को सत्ताधारी दल का विरोधाभासी निर्णय बताया है।

कमलनाथ ने कहा है कि मुझे आश्चर्य है कि गो-रक्षा, गो-अभ्यारण्य खोलने की बात करने वाली सरकार ने पिछली कैबीनेट में ही गो-मंत्रालय बनाने का निर्णय लिया है। इस निर्णय के तत्काल बाद दूसरी कैबिनेट बैठक में अभिजात्य वर्ग के दबाव में अमीरों के लिये चारागाह की जमीन पर गोल्फ कोर्स खोलने के प्रस्ताव पर अपनी सहमति दे दी।
इस विरोधाभासी निर्णय से भ्रम पैदा हो गया है कि भाजपा गो-वंश की रक्षा करना चाहती है या फिर उनके चारागाह पर हक जमाकर गोल्फ खेलना चाहती है? इस पर भाजपा को अपना स्पष्ट मत जनता के सामने लाना चाहिये।
कमलनाथ ने कहा कि मंत्रिमण्डल की बैठक के दौरान ही इस प्रस्ताव पर असहमति के स्वर उठे थे कि गायों की जमीन गोल्फ कोर्स के लिये देना ठीक नहीं है।
लेकिन आपत्तियों को दरकिनार करके गोल्फ कोर्स के प्रस्ताव पर पता नहीं किस कारण से सैद्धांतिक सहमति बनायी गयी। ऐसा प्रतीत हो रहा हैकि इसके पीछे कोई बड़ा खेल खेला जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रस्तावित जमीन आईएसओ अवार्ड वाले बुल मदर फार्म की है, जहां पर सात सौ गाय बैल हैं।
यहां फार्म की 650 एकड़ जमीन है और पशुओं के चारे के लिये चार सौ एकड़ पर चारागाह है। सरकार अविलंब इस प्रस्ताव को निरस्त करे, अन्यथा कांगे्रस की सरकार बनने पर प्रस्ताव को निरस्त किया जायेगा।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button