गोरखपुर की छात्रा को इलाज को दिए दस लाख

बीएड की छात्रा के दिल के दोनों वॉल्व हैं खराब, मेदांता में होगा आपरेशन
लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर की एक गंभीर रोग से पीड़ित छात्रा को इलाज के लिए 9.90 लाख रुपये की सहायता राशि उपलब्ध करायी है। बीएड की पढ़ाई कर रही इस छात्रा के दिल के दोनों वॉल्व खराब हो चुके हैं और मेदांता अस्पताल में उसका आपरेशन होना है। मुख्यमंत्री योगी ने छात्रा के इलाज के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष से 9.90 लाख रुपये की सहायता राशि उपलब्ध कराकर इसकी जानकारी उसके पिता को एक पत्र के माध्यम से दी है। मुख्यमंत्री ने आशा व्यक्त की है कि इस सहायता राशि से उसका आपरेशन सकुशल सम्पन्न हो जाएगा और वह पूर्ण स्वस्थ होकर अपनी पढ़ाई को जारी रख सकेगी। गोरखपुर जिले में कैम्पियरगंज के मछलीगांव की रहने वाली मधुलिका मिश्रा बीएड द्वितीय वर्ष की छात्रा है। इसके दिल के दोनों वॉल्व खराब हो चुके हैं, जिससे वह काफी अस्वस्थ हो गई है। पीड़ित छात्रा ने बताया कि उसके पिता राकेश चंद्र मिश्र किसान हैं। मां की बचपन में ही मौत हो गई थी। दो भाई हैं, जो पढ़ाई करने के साथ-साथ कृषि में पिता का भी सहयोग करते हैं।
आर्थिक रूप से कमजोर छात्रा ने ऑपरेशन के खर्चे के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक मदद की गुहार लगाई थी। उसने बताया कि कुछ दिन पहले उसे सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। परिवारवालों ने उसे मेदांता अस्पताल में दिखाया तो डॉक्टरों ने दिल के दोनों वॉल्व खराब होने की जानकारी दी। डॉक्टर्स का यह भी कहना है कि ऑपरेशन के जरिए दोनों वॉल्व बदले जा सकते हैं। चिकित्सकों ने इसमें 9 लाख 90 हजार रुपये का खर्च बताया और ऑपरेशन की तारीख 24 अगस्त दी है। इसके बाद छात्रा ने अपने भाई की मदद से मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री को मदद के लिए पत्र लिखा। मुख्यमंत्री योगी ने अपने पत्र में छात्रा के पिता राकेश चंद्र मिश्र को जानकारी दी है कि आपरेशन के लिए मेदांता अस्पताल द्वारा प्रदत्त इस्टीमेट के अनुरुप 9.90 लाख रुपये मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से स्वीकृत कर दिए गए हैं।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button