गाज़ियाबाद में यूपी का पहला डिटेंशन सेंटर बनकर तैयार

जुबिली न्यूज़ डेस्क
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के गाज़ियाबाद जिले में राज्य के पहले डिटेंशन सेंटर की तैयारी पूरी हो चुकी है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने इसे अपनी मंजूरी भी दे दी है. समाज कल्याण विभाग को एक इमारत में डिटेंशन की शुरुआत करने को कहा गया है. योगी सरकार ने इस सम्बन्ध में केंद्र सरकार के पास प्रस्ताव भेज दिया है. वहां से हरी झंडी मिलते ही डिटेंशन सेंटर शुरू हो जाएगा.

Loading...

इस डिटेंशन सेंटर को जेल की तर्ज़ पर तैयार किया गया है. इस सेंटर में अवैध रूप से उत्तर प्रदेश में रहने वालों को रखा जाएगा. जिन विदेशियों को उनके देश भेजे जाने में समय लग रहा है उन्हें भी यहाँ रखा जाएगा. इस डिटेंशन सेंटर में रहने वालों के लिए भोजन और अन्य ज़रूरी चीज़ों का इंतजाम किया जाएगा.
यह भी पढ़ें : …और कांग्रेस ने PM मोदी के जन्मदिन को ऐतिहासिक बना दिया
यह भी पढ़ें : एयरपोर्ट के बाद अब रेलवे स्टेशन खरीदने की तैयारी में अडानी
यह भी पढ़ें : छत्तीसगढ़ में कोयला खदानों की लिस्ट बदली, लेकिन स्थिति जस की तस
यह भी पढ़ें : डंके की चोट पर : सियासत का कंगना और जंगलराज की घंटी
जानकारी मिली है कि इस डिटेंशन सेंटर में फिलहाल सौ लोगों के रखे जाने का इंतजाम किया गया है. योगी सरकार ने समाज कल्याण विभाग से कहा है कि काफी समय से बंद पड़े दो अम्बेडकर छात्रावास को भी डिटेंशन सेंटर में बदल दिया जाए.
इस डिटेंशन सेंटर को फिलहाल एक मज़बूत दीवार से घेरने का काम शुरू कर दिया गया है. यह राज्य का बारहवां डिटेंशन सेंटर होगा. गाज़ियाबाद के इस डिटेंशन सेंटर के अलावा असम में छह, दिल्ली, बेंगलुरु, पंजाब, राजस्थान और गोवा में एक-एक डिटेंशन सेंटर पहले से मौजूद हैं.

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...