क्या नीतीश कुमार को कड़ी टक्कर दे पायेगा ये खूबसूरत चेहरा

जुबिली स्पेशल डेस्क
पटना। बिहार में चुनाव करीब है। नीतीश दोबारा सत्ता में लौटने का सपना देख रहे हैं। इस वजह से लगातार जनता के बीच अपने पांच साल के कामकाज को लेकर जाने की बात कह रहे हैं। नीतीश का दावा है सत्ता में दोबारा वापसी करेगे लेकिन उनके विरोधी उन्हें सत्ता से बेदखल करने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी है।
नीतीश को चुनावी दंगल में चित करने के लिए लालू के लाल तेजस्वी यादव भी बिहार में सबसे ज्यादा सक्रिय है। हालांकि नीतीश बीजेपी की मदद से विरोधियों को जवाब देते दिख रहे हैं। हालांकि नीतीश के खिलाफ कई मौकों पर उनकी साथी उनको निशाने पर ले चुके हैं।
खासकर जेडयू के साथ मिलकर चुनाव लड़ रहे लोकजनशक्ति पार्टी ने कई मौकों पर नीतीश की कड़ी आलोचना की है लेकिन कहा जा रहा है कि मामला सुलझा लिया गया है और सबकुछ ठीक है। जहां बीजेपी को रोकने के लिए लालू की पार्टी आरजेडी और कांग्रेस एक साथ नजर आ रहे हैं तो दूसरी ओर युवा चेहरे भी नीतीश कुमार को घेरने के लिए अपनी कमर कस चुके हैं।

Loading...

चीराग पासवन , प्रशांत किशोर जैसे युवा पहले से नीतीश कुमार को चुनौती दे रहे हैं अब इसी लिस्ट एक और नाम जुड़ गया है। दरअसल प्लूरल्स पार्टी अध्यक्ष पुष्पम प्रिया चौधरी की पार्टी भले ही नई हो लेकिन बिहार के चुनाव में एकाएक नया तड़का लगा दिया है।
यह भी पढ़ें : तो क्या अभी भी नाराज हैं सचिन पायलट?
यह भी पढ़ें : बुझ गया अवध के आख़री बादशाह के घर का चिराग
इतना ही नहीं विदेश से लौटी अंग्रेजी एक्सेंट वाली पुष्पम प्रिया चौधरी खुद को बिहार का अगला सीएम बनने का दावा कर रही है। हालांकि यह कहना अभी जल्दीबाजी होगा कि बिहार चुनाव वो कितनी सीट जीत पाती है। यह भी एक बड़ा सवाल है।

कौन है पुष्पम प्रिया चौधरी
बिहार चुनाव में पुष्पम प्रिया चौधरी नया नाम है लेकिन बिहार चुनाव में उनकी इंट्री भी शानदार हुई है। पुष्पम प्रिया चौधरी कोई और नहीं बल्कि जनता दल (यूनाइटेड) के नेता और विधान परिषद के सदस्य रह चुके विनोद चौधरी की बेटी हैं। पुष्पम ऐसे तो बिहार के दरभंगा की रहने वाली है।

प्लूरल्स पार्टी के बारे में आपको ज्यादा जानना है कि इसकी वेबसाइट को देख सकते हैं। पुष्पम प्रिया चौधरी के बारे में कहा गया है कि वो लंदन के मशहूर लंदन स्कूल ऑफ इकॉनमिक्स से पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर्स की डिग्री ली है। इसके अलावा, उन्होंने इंग्लैंड के द इंस्टीट्यूट ऑफ डेवलपमेंट स्टडीज विश्वविद्यालय से डेवलपमेंट स्टडीज में भी मास्टर्स की डिग्री ली है।
यह भी पढ़ें : कंगना के मुद्दे पर साधु-संत में भी दो फाड़
प्लूरल्स पार्टी का चुनाव चिन्ह पंख है जिसे शाक्ति और तीव्रता प्रतीक बताया जाता है। पुष्पम की पार्टी का नारा है जन गण सबका शासन है। उन्होंने कहा कि वह राज्य के विकास के लिए सकारात्मक राजनीति करेंगी और बिहार की मुख्यमंत्री बनने पर अगले 10 वर्षों में बिहार को देश का सबसे विकसित राज्य बना देंगी।

सोशल मीडिया पर उनका लुक बना चर्चा का विषय
चुनाव प्रचार के दौरान उनका लुक चर्चा का विषय बनता दिख रहा है। पुष्पम हमेशा ब्लैक ड्रेस में नजर आती है। इतना ही नहीं मॉस्क भी वो काले रंग का लगाती है। मास्क से लेकर जूते या चप्पल और घड़ी-मोबाइल तक सबकुछ काला ही दिखता है। उनकी डे्रस को लेकर कई बार सवाल पूछा गया है। इसपर उनका कहना है अन्य नेता सफेद ड्रेस क्यों पहनते हैं।

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...