कोरोना वायरस: मरीज के अंतिम संस्कार में लोगों ने किया प्रशासन का विरोध, भीड़ ने पुलिस को भी बनाया निशाना

कोलकाता: कोरोना वायरस ने भारत में अबतक 400 से ज्यादा लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है। वहीं इस बीमारी से मरने वालों को संख्या बढ़कर 10 हो गई है। कोरोना वायरस की वजह से होने वाली मौतें अब प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती बन रही हैं, क्योंकि उनके संस्कार में प्रशासन को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं कोरोना वायरस के आठवें शिकार शख्स का अंतिम संस्कार कोलकाता में तब हो जब पुलिस ने भारी भीड़ को कंट्रोल किया।
जानकारी के अनुसार यहां लोगों के एक गुट ने सोमवार रात लगभग 10:30 बजे शववाहन को श्मशान गृह में प्रवेश से रोकने की कोशिश में पुलिस को भी निशाना बनाया। इस शख्स के बारे में अफवाहें फैली हुई थीं कि उसने इटली यात्रा की जानकारी छिपाई थी, जिस वजह से उसके पड़ोसियों का व्यवहार परिवार के प्रति अच्छा नहीं रहा। शख्स के पुत्र ने नियमों के मुताबिक पुलिस को अंतिम संस्कार के लिए सहमति पत्र दिया था, क्योंकि वह अमेरिका में था और वैश्विक लॉकडाउन के चलते घर नहीं लौट सकता था। उसने आग्रह किया था कि अगर नियम हो, तो पिता की अस्थियां उसके परिवार को सौंप दी जाएं। इस शख्स का यह 27-वर्षीय पुत्र अमेरिकी यूनिवर्सिटी में पढ़ता है, और पिछले साल जुलाई में कोलकाता से गया था।
जानकारी के लिए आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल में मंगलवार को कोरोना वायरस के दो और मामले सामने आए जिसके साथ ही राज्य में इस महामारी के कुल आठ मामले हो गए हैं। राज्य के एक स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि दोनों रोगी हाल ही में विदेश यात्रा से लौटे थे।

Loading...
loading...
Loading...