कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट के बाद उत्तर केरल में दहशत

कासरगोड: केरल मेंविदेश से पिछले सप्ताह केरल के कासारगौर लौटे एक प्रवासी भारतीय (एनआरआई) के आधिकारिक निर्देशों का उल्लंघन कर विभिन्न सामाजिक समारोहों में भाग लेने के बाद उसके काेरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि के बाद पूरे उत्तर केरल में अशांति का माहौल पैदा हो गया और दहशत व्याप्त है। एनआरआई की गुरुवार को आयी जांच रिपोर्ट पॉजेटिव पाया गयी जिसके बाद उसे यहां से निकट कान्हांगड जिला अस्पताल के कोरोना वार्ड में भर्ती कराया गया है।
एनआरआई ने यहां पहुंचने के बाद कई कार्यक्रमों में भाग लिया था और अनेक लोगों से मुलाकात की थी। वह जिन स्थानों पर गया था वहां के लोगों में उसकी विभिन्न गतिविधियों के कारण भय और चिंता का माहौल व्याप्त है। इसके अलावा 12 मार्च को उसके आने के बाद व्यापक स्तर पर विभिन्न सामजिक कार्यक्रमों में भाग लेने के कारण अधिकारियों को उसके रूट मैप को बनाने में भी दिक्कत आ रही है।
रिपोर्टों से पता चलता है कि उस व्यक्ति पिछले सात दिनों के दौरान सामाजिक, धार्मिक और खेल सहित कई कार्यक्रमों में भाग लिया था तथा इस दौरान उसने रेल और अन्य सार्वजनिक वाहनों का उपयोग किया था। इस अवधि के दौरान उसे कासरगोड और मन्जेश्वरम के विधायकों से भी मुलाकात की थी और उसने हाथ मिलाया था तथा गले मिले थे। उसने आइसोलेशन वार्ड में भर्ती होने से पहले ही इन विधायकों से मुलाकात की थी। स्वास्थ्य अधिकारी और जिला प्रशासन उनसे मिलने वाले अन्य लोगों की पहचान करने का प्रयास कर रहा है जिससे उन लोगों के रक्त की जांच की जा सके।

Loading...
loading...
Loading...