कोरोना पर ट्वीट करना इस युवक को पड़ा भारी, गिरफ्तार

बेंगलुरु से एक बड़ा हैरान कर देने वाला मामला सामने आ रहा है. दरअसल, यहां पुलिस ने कोरोना वायरस फैलने को लेकर उकसाने के आरोपी एक सॉफ्टवेयर इंजिनियर को गिरफ्तार किया है. उसने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा था, ‘आएं साथ आएं, बाहर निकलें और खुले में छींके और वायरस फैलाएं.’ बेंगलुरु के संयुक्त पुलिस आयुक्त संदीप पाटिल ने एक बयान में कहा, ‘जिस व्यक्ति ने लोगों से खुले में छींकने और वायरस फैलाने की बात कही थी, उसे गिरफ्तार कर लिया गया है. वह एक सॉफ्टवेयर कंपनी में काम करता है.’’
इस बीच आईटी कंपनी इंफोसिस ने शुक्रवार को कहा कि “उसने कोरोना वायरस से संबंधित सोशल मीडिया पर ‘अनुचित पोस्ट’ करने वाले कर्मचारी को बर्खास्त कर दिया है”. इंफोसिस ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक ट्वीट किया कि “कर्मचारी द्वारा सोशल मीडिया पर की गई पोस्ट आचार नियमावली के खिलाफ है.” कंपनी ने आगे कहा कि “इंफोसिस ने अपने एक कर्मचारी द्वारा सोशल मीडिया पोस्ट पर अपनी जांच पूरी कर ली है, और हम मानते हैं कि यह गलत पहचान का मामला नहीं है.”
इस घटना पर इंफोसिस ने कहा “सोशल मीडिया पर उसके एक कर्मचारी द्वारा की गई अनुचित पोस्ट के मुद्दे पर वह गंभीर है और उसके खिलाफ कार्रवाई की गई. उसने इस मामले में एक स्वतंत्र जांच भी कराई.” ट्वीट कर इंफोसिस ने कहा कि “कर्मचारी द्वारा की गई सोशल मीडिया पोस्ट इंफोसिस की आचार संहिता और समाज के प्रति उसकी प्रतिबद्धता के खिलाफ है. इंफोसिस ऐसी हरकतों पर जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाता है. कर्मचारी को टर्मिनेट कर दिया गया हैं.”

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button