कोटा के पास चंबल नदी में नाव पलटने से 11 लोगों की मौत, तीन की तलाश जारी

जयपुर। राजस्थान के कोटा जिले में हादसा चाणदा और गोठड़ा गांव के बीच बुधवार को सुबह 9 बजे चंबल नदी में नाव पलटने से 11 लोगों की मौत हो गई। सभी के शव निकाले जा चुके हैं तीन लोगों की अभी भी तलाश जारी है। मृतकों में 6 पुरुष, 4 महिलाएं और एक बच्चा शामिल है। नाविक तैरकर बाहर निकल आया। नाव की क्षमता 25 लोगों की थी, लेकिन उसमें 40 लोग सवार थे। यही नहीं, नाव में 14 बाइकें भी लदी थी। क्षमता से ज्यादा भार के कारण नाव पलट गई।

Loading...

घटना के तुरंत बाद मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने लोगों को बचाने की कोशिश की, लेकिन बहाव तेज होने की वजह से कुछ लोग बह गए। चार लड़कों ने मिलकर कुल करीब 25 लोगों की जान बचाई। लोगों ने बताया कि नाव की हालत पहले से खराब थी। इसके बाद भी क्षमता से ज्यादा यात्रियों को बैठाया गया था। नदी पार करवाने के लिए नाव पर बाइकें भी बांध दी गई थीं। इस वजह से नाव वजन नहीं सह सकी और डूब गई।
जानकारी के मुताबिक़ नाव वाले ने ज्यादा लोगों को बैठाने से इनकार किया था, फिर भी लोग नहीं माने और नाव में चढ़ते गए। लोगों को बचाने के लिए कुछ देर में दूसरी नाव भी गहरे पानी में पहुंची, लेकिन तब तक काफी लोग डूब चुके थे। पुलिस ने बताया कि नाव पर सवार लोग कमलेश्वर धाम जा रहे थे। मारे गए ज्यादातर लोग गोठड़ा कला के रहने वाले हैं।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने नाव दुर्घटना पर गहरी संवेदना प्रकट की है। गहलोत ने कोटा प्रशासन से बात कर घटना की जानकारी ली और तत्परता से राहत व बचाव के साथ ही लापता लोगों को शीघ्र ढूंढने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने प्रभावित परिजनों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से मदद के लिए निर्देश दिए हैं। कोटा के सांसद और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने प्रशासन से हादसे की जानकारी ली। उधर, कोटा से एंडीआरएफ की टीम मौके के लिए रवाना कर दी गई है।
The post कोटा के पास चंबल नदी में नाव पलटने से 11 लोगों की मौत, तीन की तलाश जारी appeared first on Vishwavarta | Hindi News Paper & E-Paper.

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...