कानून- व्यवस्था के मामले में किसी भी स्तर पर कोई लापरवाही न बरती जाए : मुख्य सचिव

लखनऊ ब्यूरो । प्रदेश के मुख्य सचिव डॉ. अनूप चंद्र पांडेय ने सोमवार को कानून-व्यवस्था को लेकर एक महत्वपूर्ण बैठक की। इस दौरान उन्होंने गृह विभाग के अधिकारियों से साफ कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था दुरुस्त की जाए ताकि देश और दुनिया में प्रदेश की छवि खराब न हो। विवेक तिवारी हत्याकांड में जिला और पुलिस प्रशासन की भूमिका से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की नाराजगी को देखते हुए मुख्य सचिव ने आज अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया कि कानून-व्यवस्था के मामले में किसी भी स्तर पर कोई लापरवाही न बरती जाए।
अगर यदि कोई अधिकारी के स्तर पर इस प्रकार की लापरवाही करता है तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई करने में देरी नहीं होनी चाहिए। बैठक में पुलिस के जवानों की कार्यप्रणाली और उनकी मानसिक क्षमता, उनके संतुलन को भी बनाए रखने के लिए कोई ठोस कदम उठाए जाने पर बात की गई है। हालांकि बैठक के बाद अधिकारियों से जब बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने कोई बात नहीं की।
गौरतलब है कि विवेक तिवारी हत्याकांड में पुलिस के अधिकारियों का अलग अलग बयान आने से सरकार की काफी किरकिरी हुई है। इस पूरे प्रकरण में लखनऊ के जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पर भी सवाल उठे हैं। कहा गया है कि अगर जिला स्तर पर इस प्रकरण को दबाने की कोशिश के बजाय गंभीरता से लेकर त्वरित कार्यवाही की गई होती तो इस प्रकार से सरकार की किरकिरी नहीं होती। मुख्य सचिव की बैठक में प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव एसपी गोयल और पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह समेत गृह विभाग के कई अधिकारी मौजूद थे।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button