कानपुर: खुल गई नगर निगम की पोल, बारिश ने ले ली 2 लोगों की जान

कानपुर। कानपुर में रिकार्ड बारिश से कोरोना संकट में जूझ रहे लोगों पर आफत बरसी। जूही खलवा पुल में जलभराव से फुटपाथ पर हो रहे एक रिक्शा चालक सहित दो लोगों की मौत हो गयी। मूसलाधार बारिश से शहर पानी-पानी हो गया। वीआइपी रोड सहित कई प्रमुख सड़को पर जलभराव से यातायात प्रभावित हुआ और सीसामऊ नाला उफनाने से कारे बहने लगी तो लोगों में हड़कम्प मच गया। कई मुहल्लों में घरों ऑफिसों के भीतर पानी भरने से लोगों की गृहस्थी का सामान खराब हो गया। नगर निगम के नाला सफाई के दावे हर साल की तह इस साल भी फेल हो गए।

कानपुर में बीती रात से गुरुवार सुबह तक होने रिकार्ड बारिश से शहर के लगभग हर प्रमुख सड़क व गलियों में घुटनो से ऊपर तक पानी भर गया। वीआइपी रोड व जूही खलवा पुल पर भारी जलभराव होने से यातायात अवरुद्ध हो गया। ग्वालटोली, खलासी लाइन,परमट,धनकुट्टी, किदवईनगर बर्रा,यशोदानगर, गांधीग्राम, सर्वोदयनगर आदि क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश का पानी लोगों के घरों में भी घुस गया। कई जगह गरीबो की गृहस्थी का सामान खराब हो गया।

सीसामऊ नाला आज सुबह जल भराव के कारण उफनाने लगा। नाले के बहाव से आसपास के क्षेत्रों की सड़कें जलमग्न हो गई। नाले का बहाव इतना तेज था कि सड़क पर कार वाले भी ना सम्भल पाए और उनकी कारे बहने लगी। जिससे लोगों में हड़कंप मचा और कुछ बहादुर लोग दौड़े ओर बहती कारों को रोका।

कानपुर में लोग पहले ही कोरोना संक्रमण से परेशान चल रहे है। आज मूसलाधार बारिश ने और परेशान कर दिया। कई कच्चे मकान भी गिर गए। गड्डायुक्त सड़को पर जलभराव से यातायात तो अवरुद्ध हुआ,लेकिन लोग गिरकर चोटिल भी हो गए।

नगर निगम दावे की पोल

हर साल की भांति इस वर्ष भी बरसात के पहले नगर निगम ने नालों की सफाई पर लाखों रुपए खर्च बताया था। रिवर साइड पावर हाउस के बीच अग्रेंजो के जमाने के एक नाले में खुद कानपुर की महापौर प्रमिला पांडेय अफसरों संग उतरी थी। पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती तक ने सीसामऊ नाले का निरीक्षण किया था। लेकिन सीवर सफाई ठीक से न होने के कारण बरसाती पानी से नाले ने उफान मार दिया। अब अफसरों ने चुप्पी साध ली और व्यवस्था देखने निकले।

ट्रैक्टर पर निकली महापौर

शहर में बरसाती पानी भरने व सीसामऊ नाले के उफान की जानकारी पर कानपुर की महापौर प्रमिला पांडेय गुरुवार को दोपहर ट्रैक्टर पर निकली। उन्होंने सीवर जल भराव पर अफसरों पर गुस्से का इजहार किया। बोली सब नगर निगम अफसरों की लापरवाही है, सबकी जांच और कार्यवाही होगी।मेयर ने अफसरों को तत्काल जलभराव समाप्त कराने के सख्त निर्देश दिए।

120 मिलीमीटर रिकार्ड बारिश

कानपुर में बुधवार रात 3 बजे से शुरू हुई बारिश गुरुवार को सुबह 9 बजे तक चली। सुबह 5 बजे बरसात के साथ अचानक बिजली भी कड़की तो लोग डरे। सीएसए मौसम विभाग के अनुसार कानपुर में 120 मिलीमीटर की रिकार्ड बारिश हुई है।

डूबकर मरा बेचारा रिक्शा चालक

जूही खलवा पुल के फुटपाथ पर रात में थकाहारा एक रिक्शा चालक सो रहा था। मूसलाधार बारिश से पुल भर गया। फुटपाथ पर सोया रिक्शा वाला जब तक जगत वहां पानी ज्यादा भर गया। तैरना जनता नही था और रात में उसे बचाने भी कोई नही आ सका। जिससे उसकी पानी मे डूबकर दुखद मौत हो गयी। जब पुल का पानी घटा तो उसकी लाश दिखी। क्षेत्रीय जनता की सूचना पर पुलिस ओर उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। अभी उसका नाम पता भी नही पता चला है।जबकु गोविंदनगर इलाके में बिजली खम्भे पर करंट उतरने से एक अन्य व्यक्ति की चिपककर मौत हो गई।

सम्पवेल बेकार साबित हुआ

जूही खलवा पुल पर हर साल होने वाली बारिश में पुल के जलभराव को दुरुस्त करने के लिए नगर निगम की तरफ से सम्पवेल लगाया गया था, लेकिन भारी बरसात में नगर निगम के दावे फेल हुए और पुल में पानी भरने से एक रिक्शा चालक की मौत हो गयी। क्षेत्रीय लोगों ने नगर निगम के प्रति नाराजगी जतायी है और बोले जनता से टैक्स तो लेते है लेकिन नालों की सफाई भी ठीक से नही कराते है। काफी घपले है, जांच होनी चाहिए।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button