कांग्रेस-आप के गठबंधन सस्पेंस बरकार, राहुल के निर्णय पर टिकी निगाहें

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 के चलते आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन का मामला अभी तक साफ नहीं हो पाया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की बैठक खत्म हो गई है। उम्मीद जताई जा रही है कि आज इस पर अंतिम फैसला हो सकता है।
राहुल गांधी एक बार फिर से दिल्ली की परिस्थितियों पर चर्चा करेंगे और अपने नेताओं से राय लेंगे
सोमवार दोपहर एक बजे कांग्रेस इस मामले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी। बैठक में दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित, तीनों कार्यकारी अध्यक्ष और दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको भी मौजूद हैं। माना जा रहा है कि राहुल गांधी एक बार फिर से दिल्ली की परिस्थितियों पर चर्चा करेंगे और अपने नेताओं से राय लेंगे।
ये भी पढ़ें : सपा के स्टार प्रचारकों की दूसरी सूची मुलायम सिंह यादव को भी मिली जगह 
चाको गठबंधन के फायदे और नुकसान पर चर्चा के लिए राहुल गांधी से मिले
पीसी चाको का कहना है कि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी का गठबंधन होगा या नहीं, शाम को इसका फैसला कर सकते हैं। ये बात भी सामने आई थी कि शनिवार को चाको गठबंधन के फायदे और नुकसान पर चर्चा के लिए राहुल गांधी से मिले थे। चाको का ये कहना है कि ये गठबंधन कांग्रेस के लिए फायदेमंद होगा।
ये भी पढ़ें : लोकसभा चुनाव 2019 : सोनिया, राहुल, प्रियंका समेत 40 स्टार प्रचारक उतरेंगे मैदान में 
अरविंद केजरीवाल ने गठबंधन को लेकर कभी भी राहुल गांधी और शीला दीक्षित से कोई बातचीत की
एक चर्चा यह भी है कि दिल्ली में आप और कांग्रेस के बीच गठबंधन नहीं होने की एक वजह यह भी है कि आम आदमी पार्टी द्वारा सातों सीटों पर पहले ही अपने उम्मीदवारों को घोषित कर दिया। आप के नेता गठबंधन होने की बात को करते रहे, लेकिन अरविंद केजरीवाल ने व्यक्तिगत रूप से इस मुद्दे को लेकर न तो कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और न ही कभी दिल्ली प्रदेश कांग्रेस की अध्यक्ष शीला दीक्षित से कोई बातचीत की।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button