कांग्रेस अधिवेशन में राहुल गांधी संभालेंगे पार्टी की कमान, सीडब्ल्यूसी को अन्य विकल्प मंजूर नहीं

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी जल्द ही पार्टी की कमान संभालेंगे। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अधिवेशन में उनके नाम पर मुहर लग जाएगी। इस बीच पार्टी संगठन में उनकी पसंद के नेताओं को अर्जेस्ट किया जाएगा। पार्टी अधिवेशन के पहले कार्यकर्ताओं को केंद्र सरकार की कथित जनविरोधी नीतियों के खिलाफ संघर्ष के लिए तैयार किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि इस समय कांग्रेस नेतृत्व संकट के दौर से गुजर रही है। इस संदर्भ में पार्टी के शीर्ष नेताओं ने गत दिनों सोनिया गांधी को पत्र लिखा था, जिसे लेकर विवाद भी हुआ। हालांकि सोमवार को हुई सीडब्ल्यूसी की बैठक में गीले-शिकवे दूर हुए और सभी नेताओं ने सोनिया गाँधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में आस्था जताई।

सीडब्ल्यूसी की बैठक में लगभग हर सदस्य ने राहुल गांधी से कांग्रेस अध्यक्ष बनने का आग्रह किया। यही नहीं सीडब्ल्यूसी द्वारा सर्वसम्मति से जारी बयान में भी सोनिया गांधी के साथ राहुल गांधी के नेतृत्व की तारीफ की गई है। सीडब्ल्यूसी के ब्यान के मुताबिक सरकार की नाकामियों और विभाजनकारी नीतियों के खिलाफ सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने जनता की लड़ाई का मजबूती से नेतृत्व किया है।

सीडब्ल्यूसी की बैठक के बाद वरिष्ठ पार्टी नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि सभी कांग्रेसजनों की इच्छा है कि राहुल गांधी अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभालें। एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता के मुताबिक राहुल गांधी कांग्रेस अधिवेशन में पार्टी अध्यक्ष चुने जा सकते हैं। इसके लिए पार्टी लोकतांत्रिक तरीके से चुनाव की प्रक्रिया को भी अपना सकती है। हालांकि, यह तय है कि सभी प्रदेश कांग्रेस कमेटियां सर्वसम्मति से राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव पारित करेंगी।

कांग्रेस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ सोनिया गांधी बतौर अध्यक्ष पार्टी अधिवेशन के पहले संगठन में जरुरी बदलाव करेंगी। संगठन में राहुल गांधी की पसंद के नेताओं को तरजीह दी जायेगी। सीडब्ल्यूसी सर्वसम्मति ने बाकायदा प्रस्ताव पारित कर इसके लिए सोनिया गांधी को अधिकृत भी कर दिया है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button