कहीं आपकी भी जासूसी तो नहीं कर रहा चीन !

जुबली न्यूज़ डेस्क
भारत और चीन में लगातार कई महीनों से तनाव बना हुआ है। इसी बीच सोमवार को एक खबर ने देश को चौंका दिया। वास्तविक नियंत्रण रेखा पर लगातार भारत से मात खाने वाले चीन की नई करतूत उजागर हुई है।
एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक चाइनीज कंपनी शेनजेन भारत में करीब दस हजार लोगों की निगरानी कर रही है। इस कंपनी का चीन की सरकार से सीधा संबंध है। 
यह भी पढ़ें : कंगना के मुद्दे पर साधु-संत में भी दो फाड़
रिपोर्ट में दावा है कि चीनी कंपनी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, पीएम नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, गांधी परिवार, उद्धव ठाकरे, राजनाथ सिंह समेत कई लोगों की जासूसी कर रहा है। इसमें बड़े नेताओं, खिलाड़ियों, बिजनेसमैन, पत्रकारों से लेकर अन्य शामिल हैं।
इतना ही नहीं आर्थिक अपराध, भ्रष्टाचार, आतंकवाद, ड्रग्स तस्करी, सोना, हथियार या वन्यजीव तस्करी के सैकड़ों आरोपियों का भी पूरा डेटाबेस चीन ने जुटाया है।
मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि, चीन इस डेटा को हाइब्रिड वॉर के लिए जुटा रहा है। इसके जरिए वह असैन्य तरीकों से अपना प्रभुत्व जमाना चाहता है और दूसरे देशों को नुकसान पहुंचाना चाहता है। कंपनी ने खुद इसे ”इन्फॉर्मेशन पलूशन, परसेप्शन मैनेजमेंट एंड प्रोपेगैंडा” नाम दिया है।
यह भी पढ़ें : तो क्या अभी भी नाराज हैं सचिन पायलट?
यह भी पढ़ें : बुझ गया अवध के आख़री बादशाह के घर का चिराग

Loading...
loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...