कथा वाचक ने विधवा महिला को प्रेमजाल में फंसाकर किया बलात्कार, पुलिस ने मुकदमा किया दर्ज

राम मंदिर भूमि पूजन के समय भजन गाकर वाहवाही लूटने वाले भजन गायक देवेंद्र पाठक (Devendra pathak) के ऊपर एक महिला ने यौन शोषण (Sexual Exploitation) का आरोप लगाया है. दिल्ली की एक महिला ने भजन गायक देवेंद्र पाठक पर बलात्कार, जबरन गर्भपात कराने और धोखा देने का आरोप लगाया है. महिला को यूपी में FIR दर्ज कराने में भी जिल्लत उठानी पड़ी. अंततः यूपी के डीजीपी (DGP) के निर्देश पर अयोध्या (Ayodhya) पुलिस ने देवेंद्र पाठक पर मुकदमा दर्ज किया है.
आरोप लगाने वाली पीड़िता विधवा है और दिल्ली में रहती है. महिला ने बताया कि भजन गायक देवेंद्र पाठक से दिल्ली में उसकी मुलाकात हुई. इसके बाद दोनों एक दूसरे के करीब आ गए . दोनों के बीच प्यार हुआ और बात शादी तक पहुंच गई. इस बीच महिला गर्भवती हो गई लेकिन महिला का आरोप है कि उसका जबरन गर्भपात करा दिया गया. महिला ने ये भी आरोप लगाए हैं कि भजन गायक देवेंद्र पाठक ने उससे 8 लाख रुपये भी ठग लिए.
पीड़िता ने डाला था शादी का दबाव 
महिला ने बताया कि जब वो गर्भवती हो गईं और देवेंद्र पाठक पर शादी के लिए दबाव डालने लगीं. इसके बाद दोनों के रिश्ते में कड़वाहट आ गई और देवेंद्र उनसे कन्नी काटने लगे. पीड़िता का आरोप है कि देवेंद्र ने उनसे 8 लाख रुपए भी ठगे. इसके बाद महिला देवेंद्र पाठक के खिलाफ केस दर्ज करवाने अयोध्या आई लेकिन केस दर्ज नहीं हुआ. महिला हाई कोर्ट की एक अधिवक्ता को साथ लेकर डीजीपी ऑफिस पहुंची जिसके बाद कथावाचक देवेंद्र पाठक पर बलात्कार, जबरन गर्भपात और धोखाधड़ी का मुकदमा राम जन्मभूमि थाने में दर्ज हुआ.
कथावाचक पर 8 लाख रुपए हड़पने का भी आरोप
महिला ने भजन गायक पर 8 लाख रुपए हड़पने का भी आरोप लगाया है. उसने पुलिस को दी गई अपनी तहरीर में कहा है कि आरोपी कथावाचक ने खुद उसे अयोध्या बुलाया था. पाठक महिला को शहर के कई होटलों और मंदिरों में ठहराते थे. महिला की कथावाचक से दिल्ली में पहली बार मुलाकात हुई थी. आपको बता दें कि देवेंद्र पाठक अयोध्या के दशरथ गद्दी से जुड़े हैं. कथावाचक ने भी महिला पर ब्लैकमेलिंग का मुकदमा दर्ज कराया है.
हाई कोर्ट में वकील को रोती मिली महिला
पूरे मामले में पीड़िता का साथ देने वाली हाई कोर्ट की अधिवक्ता नीरज सिंह ने बताया कि पीड़िता हाई कोर्ट के बाहर रोती हुई मिली थी और बहुत परेशान थी. उनकी समस्या सुनकर ही मैंने महिला की मदद करने का फैसला किया. वकील नीरज सिंह महिला के साथ थाने पर गई. थाने पर इंस्पेक्टर साहब नहीं मिले इसके बाद ये दोनों एसएसपी ऑफिस (SSP Office) गईं लेकिन एसएसपी साहब भी नहीं मिले.
FIR दर्ज कराने में उठानी पड़ी जिल्लत 
महिला के वकील ने कहा कि FIR दर्ज कराने में बहुत दिक्कत आई. वकीन ने बताया कि मैं इनको लेकर लखनऊ गई और डीजीपी साहब से मिली. उन्होंने हमें सीओ अयोध्या (CO Ayodhya) से मिलने को कहा, मैंने उनसे फोन पर बात की. उन्होंने हमको अयोध्या बुलाया, हम अयोध्या आए तब जाकर FIR दर्ज हुई.
महिला को मिल रही हैं धमकी 
महिला वकील के मुताबिक आरोपी देवेंद्र पाठक को बचाने के लिए कई लोगों के फोन आ रहे हैं. महिला को कहा जा रहा है उनकी पहुंच दूर तक है और आप उनका कुछ बिगाड़ नहीं पाएंगी, दिल्ली वापस चली जाओ. उन्होंने कहा कि तीन-चार दिन हो गए लेकिन अभी तक उसकी गिरफ्तारी नहीं हुई है जबकि वह थाने के बगल में ही रहता है.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button