कंगना के पक्ष में आये अयोध्या के संत, किया शिवसेना का अंतिम संस्कार

जुबिली न्यूज़ डेस्क
लखनऊ. बालीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के पक्ष में अब अयोध्या के संत भी आ गए हैं. संतों ने कहा कि मुम्बई में कंगना का ऑफिस गिराया जाना बदले की कार्रवाई है. अगर कंगना का ऑफिस अवैध था तो फिर मातोश्री भी तोड़ा जाना चाहिए क्योंकि मानकों के हिसाब से तो वह भी नहीं बना है. साधू-संतों ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की तस्वीर जलाकर अपना विरोध जताया.

Loading...

अयोध्या के संतों ने कहा कि महाराष्ट्र की सरकार बाल ठाकरे के रास्ते से भटक गई है. संतों ने कहा कि देश की बेटी के साथ जिस तरह का बर्ताव हुआ उसके बाद उद्धव सरकार को इस्तीफ़ा दे देना चाहिए. संतों ने कंगना के बारे में अपशब्द बोलने पर सांसद संजय राउत पर भी निशाना साधा.
यह भी पढ़ें : कंगना और ठाकरे की लड़ाई में हुई राज्यपाल की एंट्री
यह भी पढ़ें : भाजपा नहीं शिवसेना कंगना की ज़्यादा हितैषी है
यह भी पढ़ें :  रघुवंश के इस्तीफे से बेचैन लालू ने लिखा, आप कहीं नहीं जा रहे
यह भी पढ़ें : डंके की चोट पर : कोरोना से ज्यादा खतरनाक है यह वायरस
संतों ने कहा कि मुम्बई में तमाम अवैध निर्माण हैं, उन्हें भी गिराया जाना चाहिए. महंत परमहंस ने कहा कि आज पूरे देश में आक्रोश है. बाल ठाकरे ने हिंदुत्व और भगवा की रक्षा के लिए शिवसेना बनाई थी लेकिन अब शिवसेना देश विरोधियों का संगठन बन गई है. तपस्वी छावनी ने आज उद्धव ठाकरे की तस्वीर जलाकर शिवसेना का अंतिम संस्कार कर दिया. संतों ने एलान किया है कि वह देश की किसी भी नारी का अपमान बर्दाश्त नहीं करेंगे.

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...