एक लाख भूखों का पेट भरेगा अक्षय पात्र

लखनऊ : कोरोना वायरस के चलते बेघर हुए लोगों को अक्षय पात्र फाउंडेशन अब खाना खिलायेगा. अक्षय पात्र की सेंट्रल किचन में हजारों लोगों का खाना तैयार होना शुरू हो गया है. इस खाने को मलिन बस्तियों और बाहर से आकर रुके लोगों के बीच में बांटना शुरू कर दिया गया है. लखनऊ के कमिश्नर मुकेश मेश्राम ने अक्षय पात्र के पदाधिकारियों से कहा था कि इस समय जबकि स्कूल बंद है और मिड डे मील बनाने और बांटने का जिम्मा अक्षय पात्र फाउंडेशन पर नहीं है, ऐसे में उन्हें अपनी सेवाएं जरूरतमंद दूसरे लोगों तक खाना पहुंचाने में देनी चाहिए. संस्था ने इस पर तेजी से काम शुरू किया.
3500 लोगों को पहुंचाया खाना : सोमवार की शाम को संस्था ने लगभग साढे 3 हजार लोगों के लिए पुलाव बनवाया और इसे बंटवाया. जिन इलाकों में खाना बांटा गया है वह पारा के आसपास की बस्तियां हैं जहां बड़ी संख्या में छत्तीसगढ़ के श्रमिक रुके हुए हैं.
अक्षय पात्र फाउंडेशन गरीब लोगों को जो खाना पहुंचा रहा है उसके एवज में जिला प्रशासन उसे 20 रूपए प्रति व्यक्ति के हिसाब से पेमेंट करेगा. रोज लगभग 1 लाख लोगों का खाना तैयार करने की क्षमता इसके सेंट्रल किचन में है. इसमें हाइजीन का विशेष ध्यान रखा जा रहा है. खाने के बर्तन के साथ-साथ गाड़ियों को भी हर चक्कर के बाद सैनिटाइज किया जाएगा. कर्मचारियों के स्वास्थ्य परीक्षण के बाद ही उन्हें फील्ड में भेजा जा रहा है और लौटने के बाद भी उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा. अक्षय पात्र फाउंडेशन देशभर में स्कूलों में मिड डे मील पहुंचाने का काम करता है.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button