उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर 350 एफआईआर दर्ज

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन घोषित किए जाने के चाौबीस घंटे के भीतर 350 लोगों के खिलाफ प्राधमिकी दर्ज की गई. अवर प्रमुख सचिव अवनीश अवस्थी ने यहां मंगलवार को संवाददाताओं को बताया कि 250 मामले सोमवार को और 100 मामले मंगलवार को दर्ज किए गए. उन्होंने कहा कि कोरोना के प्रकोप से निपटने के लिए प्रदेश सरकार के सभी विभाग आपस में समन्वय बनाकर मुस्तैदी से काम कर रहे हैं.
बता दें मंगलवार को पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान देश वासियों को कोरोना वायरस (Corona Virus)को प्रकोप से बचाने के लिए अगले 21 दिनों तक पूरे देश में लॉकडाउन का ऐलान कर दिया है. हालांकि अभी रविवार को ही पूरे देश में जनता कर्फ्यू लगा था जिसके बाद पीएम मोदी ने एक बार फिर कोरोना के कहर से देशवासियों को बचाने के लिए यह कड़ा फैसला लिया है. इस दौरान पीएम मोदी ने यह भी बताया कि लॉकडाउन का मतलब सब कुछ बंद यह कर्फ्यू जैसा ही है लेकिन इसमें आपको जरूरी सामान मिलता रहेगा.
देशव्यापी लॉकडाउन के ऐलान के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि देशवासियों को बिल्कुल घबराने की जरूरत नहीं है. पीएम मोदी ने कहा कि जरूरी सेवाएं और दवाएं मिलती रहेंगी. उन्होंने कहा कि मेरे देशवासियों, घबराने की बिल्कुल जरूरत नहीं है, जरूरी सेवाएं, दवाएं वगैरह उपलब्ध रहेंगी. केंद्र और राज्य सरकारें एक साथ मिलकर काम करेंगी, ताकि लोगों को जरूरी चीजें मिलती रहें. हम लोग एक साथ मिलकर कोविड-19 के खिलाफ लड़ेंगे और एक तंदुरुस्त और स्वास्थ्य भारत का निर्माण करेंगे. जय हिंद

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button