उत्तर प्रदेश: दुष्कर्म पीडि़ता ने मुख्यमंत्री आवास के पास किया आत्महत्या का प्रयास

लखनऊ। बाराबंकी जिला तथा पुलिस प्रशासन से न्याय की गुहार लगाने के बाद परेशान दुष्कर्म पीडि़ता ने कल लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास के पास आत्मदाह का प्रयास किया। करीब 30 प्रतिशत जली महिला को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।उत्तर प्रदेश: दुष्कर्म पीडि़ता ने मुख्यमंत्री आवास के पास किया आत्महत्या का प्रयास

बाराबंकी की निवासी एक महिला ने लखनऊ में मुख्यमंत्री के सरकारी आवास के पास आत्मदाह का प्रयास किया। महिला का आरोप है कि उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ है, लेकिन पुलिस केस दर्ज करके उसे न्याय नहीं दिला पा रही है। शरीर पर मिट्टी का तेल डालने के बाद आग लगाने वाली यह महिला करीब 30 फीसदी जल चुकी है। उसे श्यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने अस्पताल पहुंच कर उसका बयान दर्ज किया है।

बाराबंकी के एक गांव की महिला का आरोप है कि करीब दो वर्ष पहले वहां उसके साथ कुछ लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था। उसने थाना पर जाकर तहरीर दी थी, लेकिन पुलिस ने छेड़छाड़ का केस दर्ज किया। पुलिस ने दुष्कर्म या फिर सामूहिक दुष्कर्म से संबंधित धाराएं नहीं लगाई गईं। वह पुलिस से न्याय की गुहार लगाती रही, लेकिन उसकी बात को अनसुना कर दिया गया।

महिला कालीदास मार्ग पर मुख्यमंत्री सीएम योगी आदित्यनाथ के आवास के पास पहुंची। वहां मिट्टी का तेल डालकर खुद को आग के हवाले कर दिया। आनन-फानन में महिला को बचाकर अस्पताल में भर्ती कराया गया। महिला करीब 30 फीसदी से ज्यादा जल गई है, लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि हालात चिंताजनक है, लेकिन खतरे से बाहर है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। पुलिस के मुताबिक इस मामले में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

You may also like

मायाराज में हुए स्मारक घोटाले पर अखिलेश सरकार ने साधी चुप्पी

मायाराज में नोएडा व राजधानी लखनऊ में अंबेडकर