उत्तर कोरिया में कैदियों के शव की खाद बनाकर उगाई जा रही फसलें

 
उत्तरी कोरिया से दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है। उत्तर कोरिया की एक पूर्व कैदी ने दावा किया है कि उत्तरी कोरिया में राजनीतिक कैदियों के शवों से खाद बनाकर उनसे सेना के जवानों के लिए फसलें उगाई जा रही हैं।
डेली मेल की खबर के अनुसार, उत्तरी कोरिया के केचियॉन कैंप में बंद एक पूर्व महिला कैदी किम इल सून ने बताया कि केचियॉन कैंप एक कंसेंट्रेशन कैंप है। ये कैंप उत्तरी कोरिया की राजधानी प्योंगयांग से उत्तर में स्थित है। यहां कैदियों को जो यातनाएं दी जाती हैं, वैसी कहीं नहीं दी जाती होंगी।
 

किम इल सून ने बताया कि पहाड़ी इलाकों में फसले उग नहीं रही थीं, तब किसी ने सलाह दी कि मारे गए कैदियों के शवों से खाद बनाकर डालने पर फसलें अच्छी होंगी। इसके बाद से यह परंपरा चालू हो गई। फसलें अच्छी होने लगी तो कैदियों को मारकर उनके शवों के खाद बनाए जाने लगे।
इस कैदी का बयान तब आया है जब उत्तरी कोरिया अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हर तरफ से अलग-थलग पड़ा हुआ है। पूरी दुनिया उत्तरी कोरिया के मिसाइल परीक्षणों से नाराज है। क्योंकि उत्तरी कोरिया ने पिछले एक महीने में चार परीक्षण किए हैं।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button