इस राज्य में भी 21 सितंबर से नहीं खुलेगा स्कूल

जुबिली न्यूज डेस्क
कोरोना महामारी के बीच में सरकार ने सारे प्रतिबंधों से ढ़ील दे दी है। सिर्फ स्कूल बंद थे, केंद्र सरकार ने वह कुछ गाइडलाइन के साथ 21 सितंबर से स्कूल खोलने की अनुमति दे दी है। राज्यों में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच स्कूल खोलने को लेकर मंथन चल रहा है।
बीते दिनों उत्तराखंड सरकार ने कहा था कि कोरोना संक्रमण कंट्रोल होगा तभी स्कूल खोलने पर विचार किया जायेगा। अब गुजरात सरकार ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले के चलते 21 सितंबर से कक्षा 9 से 12 तक के स्कूल नहीं खोलने का फैसला किया है।
ये भी पढ़े:  अर्थव्यवस्था को लेकर आरबीआई गर्वनर ने फिर जताई चिंता
ये भी पढ़े: मोदी को दुनिया भर से मिल रही बधाई मगर देश के युवाओं में है गुस्सा
ये भी पढ़े: जीतनराम मांझी ने क्यों बदले तेवर?

Loading...

गुजरात के शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चूड़ास्मा ने बुधवार को कहा कि कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए गुजरात सरकार ने 21 सितंबर से माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक स्कूलों को फिर से खोलने का फैसला नहीं किया है। उन्होंने कहा कि गांधीनगर में मुख्यमंत्री विजय रूपानी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक के दौरान राज्य सरकार ने छात्रों के हित में यह निर्णय लिया है।
मालूम हो कि केंद्र सरकार की ओर से अनलॉक-4 के तहत 21 सितंबर से कक्षा 9 से 12 तक के स्कूल खोलने की अनुमति दी गई है। इसके साथ ही भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्कूलों के लिए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग सिस्टम भी जारी कर दिया है। बावजूद इसके गुजरात सरकार ने 21 सितंबर से स्कूल खोलने से इनकार कर दिया है। सरकार के इस फैसले का अभिभावकों और स्कूलों ने स्वागत किया है। सभी माता-पिता और प्रिंसिपल ने अहमदाबाद मिरर से बातचीत में कहा कि जब तक कोरोना के मामलों को कंट्रोल नहीं किया जाता है, तब तक छात्रों को जोखिम में नहीं डालना चाहिए।
गुजरात के शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चूड़ास्मा ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि इस महीने की शुरुआत में ‘अनलॉक -4’ गाइडलाइंस की घोषणा करते हुए केंद्र ने साफ किया था कि कक्षा 9 से 12 के लिए 21 सितंबर से स्कूलों को फिर से खोलने का अंतिम फैसला संबंधित राज्यों की ओर से लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सेंट्रल एसओपी के अनुसार, छात्र 21 सितंबर से अपने माता-पिता की अनुमति से शिक्षकों से मार्गदर्शन लेने के लिए स्कूलों में जा सकते हैं।
ये भी पढ़े:  एयरपोर्ट के बाद अब रेलवे स्टेशन खरीदने की तैयारी में अडानी
ये भी पढ़े:  छत्तीसगढ़ में कोयला खदानों की लिस्ट बदली, लेकिन स्थिति जस की तस
ये भी पढ़े:  संजय राउत ने ‘भाभी जी’ को क्यों किया याद

मंत्री ने कहा कि केंद्र ने साफ किया था कि राज्यों के लिए इन एसओपी को 21 सितंबर से लागू करना अनिवार्य नहीं है। छात्रों के एक स्थान पर जमा होने पर कोरोना वायरस के संक्रमण का जोखिम होता है। छात्रों के लिए वर्तमान स्थिति में स्कूलों तक जाना उचित नहीं है इसलिए राज्य सरकार ने 21 सितंबर से स्कूलों को फिर से खोलने का फैसला नहीं किया है। उन्होंने कहा कि स्थिति में सुधार होने पर उचित निर्णय लिया जाएगा। तब तक राज्य में ऑनलाइन शिक्षा जारी रहेगी।
यूपी, दिल्ली, उत्तराखंड समेत इन राज्यों में भी नहीं खुलेंगे स्कूल
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सरकार ने कोरोना महामारी के कारण 30 सितंबर तक सभी स्कूल बंद रखने का निर्णय लिया है। वहीं यूपी की योगी सरकार ने भी 21 सितंबर से दोबारा स्कूल खोलने की संभावना से इनकार कर दिया है। उधर, उत्तराखंड में भी स्कूल, कॉलेज 30 सितंबर तक बंद रहेंगे। इसके अलावा तमिलनाडु सरकार भी अभी स्कूल खोलने के पक्ष में नहीं है। जबकि छत्तीसगढ़ और बिहार में स्कूल खोलने पर कोई विचार नहीं हुआ है।

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...