आशा कर्मियों व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को लेकर प्रियंका गांधी ने योगी से किया सवाल

लखनऊ। चुनावी हलचल में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने अब यूपी की आशा कर्मियों व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को लेकर योगी सरकार पर हमला किया है। आपको बता दें कि किसानों के गन्ना बकाया भुगतान को लेकर केंद्र की मोदी व उत्तर प्रदेश की योगी सरकार को घेरने वाली उन्होंने आशा कर्मियों के साथ एक तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा कि उत्तर प्रदेश की आशाकर्मी नौ महीनों के लिए एक गर्भवती महिला के स्वास्थ्य की जिम्मेदारी उठाती हैं जिसके लिए उन्हें सिर्फ 600 रुपये मिलते हैं भाजपा सरकार ने कभी उनका मानदेय बढ़ाने की कोशिश भी नहीं की। साथ ही प्रियंका ने ये भी कहा कि आशा कर्मियों को जुमले नहीं जवाब चाहिए।

उत्तर प्रदेश की आशाकर्मी 9 महीनों के लिए एक गर्भवती महिला के स्वास्थ की जिम्मेदारी उठाती हैं जिसके लिए उन्हें मात्र 600 रु मिलते हैं। भाजपा सरकार ने कभी उनकी मानदेय में बढ़ोतरी की सुध नहीं ली। उन्हें जुमले नहीं, जवाब चाहिए। #Sanchibaat pic.twitter.com/FlXR0A2e1k
— Priyanka Gandhi Vadra (@priyankagandhi) March 24, 2019

ये भी पढ़ें : पूरी क्षमता से किया लखनऊ का विकास, अब जनता की बारी : राजनाथ 
आपको बता दें कि एक अन्य ट्वीट में प्रियंका ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाओं के मुद्दे पर योगी सरकार पर सवाल उठाए। उन्होंने ट्वीट किया कि यूपी की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाएं प्रदेश सरकार से राज्य कर्मचारी का दर्जा मांग रही हैं लेकिन भाजपा सरकार ने उनकी पीड़ा सुनने के बजाय उन पर लाठियां चलवा रही है। साथ ही कहा कि उन्होंने आगे लिखा कि मेरी बहनों का संघर्ष, मेरा संघर्ष है।

उत्तर प्रदेश की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाएँ राज्य कर्मचारी का दर्जा माँग रही हैं। भाजपा सरकार ने उनकी पीड़ा सुनने के बजाय उनपर लाठियाँ चलवाई। मेरी बहनों का संघर्ष, मेरा संघर्ष है।#Sanchibaat pic.twitter.com/0xsEOUw4YO
— Priyanka Gandhi Vadra (@priyankagandhi) March 24, 2019

ये भी पढ़ें : लोकसभा चुनाव 2019 : सोनिया, राहुल, प्रियंका समेत 40 स्टार प्रचारक उतरेंगे मैदान में 
जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि इसके पहले प्रियंका ने गन्ना किसानों के मुद्दे पर योगी सरकार से बहुत तीखे हमले किए, जिस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्विटर पर उन्हें करारा जवाब दिया। प्रियंका ने ट्वीट किया था कि गन्ना किसानों के परिवार दिन रात मेहनत करते हैं पर उत्तर प्रदेश सरकार उनके भुगतान का भी जिम्मा नहीं लेती लगभग किसानों का 10000 करोड़ रुपया बकाया है। आपको बता दें कि मतलब उनके बच्चों की शिक्षा, भोजन, स्वास्थ्य और अगली फसल सब कुछ ठप्प हो गया है। यह चौकीदार सिर्फ अमीरों की ड्यूटी करते हैं गरीबों की इन्हें कोई परवाह ही नहीं है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button