ऐसे बनाये, आवंले की मीठी चटनी…

0

भारत में गुलाबी ठण्ड के शुरू होते ही बाजार में मौसमी फल और सबज़ी आने लगाती है, सर्दियों के मौसम में यूँ तो अनेक फल है, पर इस मौसम आंवले खाना मतलब खुद को स्वास्थ और सुन्दर रखना. आंवला विटामिन-सी का अच्छा स्रोत होता है, एक आंवले में 3 संतरे के बराबर विटामिन सी की मात्रा होती है. साथ ही आंवला खाने से रोग-प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है. अतेव चाहे मुरब्बा खाये या चटनी आंवले को आहार में अवश्य प्रयोग करे. प्रस्तुत है आंवले की चटनी इसे आप रोटी, पराठा , ब्रेड ,चांवल, पूरी के साथ खा सकते है ,आप इसे प्रिज के अंदर रहने दे तो ३ महिने ख़राब नहीं होगी और बाहर रखेते है तो १ माह तक संगरक्षित रहेगी, आईये बनाते है आंवले की मीठी चटनी. 

सामग्री 
आवंला – 250 ग्राम
गुड़ – 250 ग्राम
नमक – 2 छोटी चम्मच
काला नमक – 1 छोटी चम्मच
इलायची पाउडर – ½ छोटी चम्मच
लाल मिर्च पाउडर – ¼ छोटी चम्मच
गरम मसाला – 1 छोटी चम्मच

विधि 

सर्वप्रथम आंवले को धोकर कुकर में २ ग्लास पानी डाल दे, फिर एक चम्मच नमक  मिलकर 2 सीटी ले लें, ठीक उसी तरह जैसे आप आलू उबलती है. आंवले उबाल जाये तो उन्हें ठन्डे पानी में डालकर आंवलो को थोड़ा दबाकर बीज निकल दें , अब मिक्सी में आंवले का पेस्ट बना लें.

पिसे हुये आंवले को पैन में डाल दीजिए, गैस आन करे, गुड़, नमक, काला नमक, इलायची पाउडर, लाल मिर्च पाउडर और गरम मसाला डाल कर मिला दीजिए और मिश्रण को धीमी आंच पर १० मिनिट पकने दीजिए. इसे बीच बीच में चलाते रहें और अच्छा गाढा़ होने तक पका लीजिए.

जब गुड़ और आंवला एक सार हो जाये और चटनी में सौंधी सुगंध आने लगे, तो समझ जाइये के चटनी बनकर तैयार है. एक बात का ख्याल रखे की चटनी पानी जैसी बहना नहीं चाहिये, ये थाकतेदार बननी चाहिये, समझ लीजिये शहद से  भी गाडी हो. आप इस चटनी को ठंडी कर कांच के मर्तबान में भर लें. स्वादिष्ट आंवले की मीठी चटनी बनाकर तैयार है. 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ऐसे बनाये… मेदू वडा

मेदू वडा दक्षिण भारत का एक लोकप्रिय व्यंजन