आप विधायक राघव चड्ढा एवं आतिशी को मानहानी का नोटिस, कहा- हम किसी नोटिस से डरने वाले नहीं

नई दिल्ली, 29 जुलाई। उत्तरी दिल्ली नगर निगम में नेता सदन योगेश वर्मा द्वारा भेजे गए एक करोड़ के मानहानि के नोटिस पर आम आदमी पार्टी (आप) के नेता और विधायक राघव चड्ढा और आतिशी ने कहा है कि वे किसी नोटिस से डरने वाले नही हैं। उन्होंने कहा कि हम जनता की अवाज उठा रहे हैं, इसे नोटिस देकर दबाया नहीं जा सकता है।

आप नेता राघव चड्ढा और आतिशी ने बुधवार को प्रेस वार्ता में बताया कि हम इस नोटिस से डरने वाले नही हैं। उन्होंने कहा कि हम पूछना चाहते हैं कि वेतन के लिए मिलने वाला पैसा आखिर कहां जाता है।

आप विधायक आतिशी ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा को डॉक्टर्स को तनख्वाह देने की फ़िक्र नहीं है, हमारी प्रेस कांफ्रेंस के जवाब में उन पर आपराधिक मानहानि की फिक्र है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने आम आदमी पार्टी और जनता की अवाज दबाने की कोशिस की है।

वहीं राघव चड्ढा ने कहा कि आम आदमी पार्टी इस चार पन्नों के नोटिस से डरने वाली नहीं है। हम जनता के बीच जाकर, जनता की आवाज बनकर व्यापक स्तर पर भाजपा के एमसीडी का भ्रष्टाचार उजागर करेंगे। हम कोर्ट के अंदर और बाहर मुंहतोड़ जवाब देंगे।

उधर, उत्तरी दिल्ली नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष विकास गोयल ने महापौर जय प्रकाश को पत्र लिखकर सदन की विशेष बैठक बुलाने की मांग की है। गोयल ने कहा कि भाजपा के नेता और महापौर ने बीते दिनों प्रेसवार्ता करके यह आरोप लगाया कि दिल्ली सरकार उनको पर्याप्त फंड नहीं दे रही है। इसकी वजह से वेतन भी कर्मचारियों को जारी नहीं हो पा रहा है। उन्होंने कहा कि नगर निगमों को विशेष सदन की बैठक बुलाकर दिल्ली सरकार की ओर से जारी किए गए फंड का लेखा-जोखा भी श्वेत पत्र जारी करना चाहिए।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि एक ओर दिल्ली में कोरोना संकट से नागरिकों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं दूसरी ओर निगम कर बढ़ाने जैसे प्रस्ताव लेकर आ रहे हैं। जबकि निगम मौजूदा करों को वसूलने में भी पूरी तरह से विफल साबित हुए हैं इसलिए नए कर लगाने का प्रस्ताव नहीं होना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि आप नेता एवं विधायक राघव चड्ढा और आतिशी को उत्तरी दिल्ली नगर निगम के नेता सदन योगेश वर्मा की ओर से एक करोड़ का मानहानि का नोटिस भेजा गया है। इसमें उन्होंने कहा है कि आप नेता राघव चड्ढा और आतिशी ने एक प्रेस वार्ता में दिल्ली नगर निगम के खिलाफ आरोप लगाते हुए कहा था कि दिल्ली सरकार ने तो नगर निगम को पूरा फंड दिया है मगर निगम के पार्षद इस फंड को खा गए और निगम के कर्मचारियों को वेतन भी नहीं मिल रहा है। उन्होंने दोनों नेताओं पर गलत बयाननबाजी का आरोप लगया है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button