Home > कारोबार > अब अमेरिका चीन से 1300 उत्पादों पर लगाएगा पहले से ज्यादा टैक्स

अब अमेरिका चीन से 1300 उत्पादों पर लगाएगा पहले से ज्यादा टैक्स

अमेरिका ने बुधवार को चीन से आयात होने वाले उत्पादों की सूची जारी की है. इस सूची में 25 प्रतिशत की दर से अतिरिक्त शुल्क लगाने का प्रस्ताव किया गया है. इससे अमेरिका को 50 अरब डॉलर का राजस्व मिल सकता है.

अब अमेरिका चीन से 1300 उत्पादों पर लगाएगा पहले से ज्यादा टैक्सअमेरिका के व्यापार प्रतिनिधि ने कहा कि उत्पादों की यह सूची विभिन्न एजेंसियों के बीच व्यापक आर्थिक विश्लेषण के बाद तैयार की गई है. इसमें चीन के उन उत्पादों को शामिल किया गया है जिन्हें चीन की औद्योगिक योजना से फायदा मिल रहा है. इनका अमेरिका की अर्थव्यवस्था पर कम से कम असर होगा.

मिली जानकारी के मुताबिक, इस प्रस्तावित शुल्क में वैमानिकी, सूचना एवं दूरसंचार प्रौद्योगिकी, रोबोटिक्स और मशीनरी जैसे उत्पाद शामिल हैं. बता दें, जिन उत्पादों पर अतिरिक्त शुल्क लगाने का प्रस्ताव किया गया है उनमें तकरीबन 1,300 उत्पाद शामिल हैं.

साथ ही इन उत्पादों की सूची को सार्वजिनक तौर पर जारी कर उसपर लोगों से टिप्पणी मांगी जाएगी और आवश्यकता पड़ने पर सुनवाई भी की जाएगी. यह प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि का कार्यालय ऐसे उत्पादों की अंतिम सूची जारी कर देगा जिनपर अतिरिक्त शुल्क लगाया जाएगा.

चीन ने मंगलवार के कहा, ‘राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन के साथ बातचीत के लिए उसके दरवाजे हर समय खुले हैं लेकिन यदि व्यापार युद्ध शुरू होता है तो वह अंत तक लड़ेगा.’

चीन की तरफ से यह बयान ऐसे समय दिया गया है जब उसने अमेरिका की ओर से इस्पात और एल्यूमीनियम पर शुल्क लगाने के जवाब में 128 अमेरिकी उत्पादों पर शुल्क लगाया है. चीन ने अमेरिकी उत्पादों पर तकरीबन तीन अरब डॉलर का शुल्क लगाया है. इनमें मांस, फल तथा कुछ अन्य उत्पाद शामिल हैं.

गौरतलब है कि अमेरिका ने चीन के साथ उसके बढ़ते व्यापार घाटे का मुद्दा एक बार फिर उठाया है. जिस पर ट्रंप प्रशासन का कहना है कि वह चीन के साथ सालाना 500 अरब डॉलर के व्यापार घाटे को बर्दाश्त नहीं कर सकता है.

Loading...

Check Also

18 पैसे/लीटर और सस्‍ता हुआ पेट्रोल, डीजल की कीमतो में आई गिरावट

18 पैसे/लीटर और सस्‍ता हुआ पेट्रोल, डीजल की कीमतो में आई गिरावट

दिनोंदिन कम होती तेल की कीमतों से आम आदमी को बड़ी राहत मिल रही है.पिछले …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com