अगर आपके अन्दर भी ये आदतें, तो हो सकते हैं डिप्रेशन का शिकार

डिप्रेशन होने पर स्मरण शक्ति, एकाग्रता आदि पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसकी वजह से कभी-कभी लोगों में आत्महत्या करने तक की स्थिति पैदा हो जाती है। इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे रहन-सहन का तरीका, काम का दबाव, बुरी आदतें आदि। अगर आप इन सब से बचना चाहते हैं तो आपको अपनी इन आदतों में सुधार करना होगा।अगर आपके अन्दर भी ये आदतें, तो हो सकते हैं डिप्रेशन का शिकारकसरत ना करना

सुस्त पड़े रहने की वजह से डिप्रेशन की स्थिति आ सकती है। इसके लिए आपको अपने दिमाग और शरीर को तंदरुस्त बनाए रखने के लिए रोज एक्सरसाइज करनी चाहिए। अगर आप दिनभर घर पर ही बैठे रहेंगे तो इससे मोटापा बढ़ेगा और आप डिप्रेशन में भी जा सकते हैं।

गलत खान-पान

एक शोध में सामने आया था कि तले-भुने खाने, चिप्स आदि में उपस्थित विषाक्त पदार्थ डिप्रेशन के लिए जिम्मेदार होते हैं। इसके लिए अपने खाने में ओमेगा-3 युक्त चीजों को जरूर शामिल करें।

गलत तरीके से सोना

कुछ लोगों की रात में देर से सोने की आदत होती है। ऐसे में अगर वह जल्दी उठ जाएं तो दिन भर थकान महसूस करते हैं। हर किसी के लिए आठ घंटे की नींद जरूरी है। कम नींद की वजह से आपका शरीर थक जाता है जिस वजह से डिप्रेशन की स्थिति आ सकती है।

अकेलापन

कई लोग अकेला रहना पसंद करते हैं। वह अपने में ही रहते हैं और अपनी भावनाओं को किसी से भी शेयर नहीं करते। वे सभी बातें अपने दिल में दबा कर रखते हैं। ऐसे लोग जल्द ही डिप्रेशन का शिकार बन जाते हैं और कई बार तो अकेलेपन की वजह से आत्महत्या तक कर लेते हैं।

काम का दबाव

कुछ लोग समय रहते काम पूरा नहीं कर पाते और डेडलाइन आने पर अफरा-तफरी में अपनी क्षमता से ज्यादा काम करने लगते हैं। एक शोध में बताया गया था कि इस तरह के लोगों को जल्दी तनाव होता है जिस वजह से वह डिप्रेशन का शिकार बन जाते हैं।

नशा

नशा करने से डिप्रेशन की स्थिति पैदा होती है। इसमें मौजूद विषाक्त पदार्थों से मस्तिष्क का रसायनिक संतुलन बिगड़ता है और लोग डिप्रेशन में चले जाते हैं।

Loading...

Check Also

जानिए क्या है सर्दियों में नींबू पानी पीने के फायदे...

जानिए क्या है सर्दियों में नींबू पानी पीने के फायदे…

अगर किसी व्यक्ति की सुबह की शुरुआत अच्छी हो तो पूरा दिन ताजगी भरा बीतता …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com