ग्लेशियर फटने से यूपी के लिए बजी खतरे की घंटी, योगी सरकार ने जारी किया हाई अलर्ट

उत्तराखंड के चमोली में तपोवन के ग्लेशियर टूटने के बाद बाढ़ का पानी बड़ी तेजी से निचले इलाकों की ओर बढ़ रहा है. इसे लेकर प्रशासन ने उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के कई जिलों में अलर्ट घोषित कर दिया गया है. गंगा नदी के किनारे बसे लोगों को नदी के आस पास नहीं जाने को कहा गया है. 

प्रशसान ने टिहरी डैम से पानी के बहाव को रोक दिया है और जहां तक संभव है डैम के पानी को रोकने कहा गया है.  रुद्रप्रयाग में भी हाई अलर्ट जारी किया गया है. नदी किनारे रहने वाले लोगों को सतर्क किया जा रहा है. थोड़ी देर पहले बाढ़ के पानी ने चमोली जिले को पार कर लिया है.

ऋषिकेश और हरिद्वार में भी गंगा के किनारे लोगों को न जाने की चेतावनी दी गई है. हरिद्वार में कुंभ मेला का आयोजन किया गया है. इस वजह से वहां लोगों की भीड़ जमा हो रही है.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

यूपी में चौकसी

चमौली में ग्लेशियर फटने के बाद उन्नाव में जिलाधिकारी द्वारा गंगा किनारे बसे लगभग 350 गांव में हाई अलर्ट जारी किया गया है. 

उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर टूटने के बाद कन्नौज जिला प्रशासन अलर्ट है, डीएम बैठक बुलाई है और गंगा के तटों पर बसे लोगों को अलर्ट कर दिया गया है. 

फर्रुखाबाद में गंगा नदी के वेग पर अधिकारी नजर रखे हैं. गंगा नदी में पानी का स्तर अभी सामान्य है. जिलाधिकारी ने बताया कि अभी गंगा से कोई खतरे की संभावना नही है. फिर भी हम लोग हालात पर नजर रखे हैं. 

बिजनौर में भी चमोली में ग्लेशियर फटने के बाद अलर्ट घोषित कर दिया गया है. गंगा किनारे के सभी गांव में प्रशासन ने पुलिस के जवानों को मौके पर उतार दिया है और गंगा किनारे के गांव में मस्जिद मंदिर और गुरुद्वारों से लाउडस्पीकर द्वारा सूचना देकर लोगों को गंगा के किनारे ना जाने को कहा जा रहा है. 

गंगा के किनारे बसे लोगों को वहां से हटाकर सुरक्षित स्थानों पर भेजा जा रहा है. बिजनौर का यह इलाका हरिद्वार बॉर्डर से शुरू होकर और गढ़मुक्तेश्वर तक जाता है. इस दौरान गंगा किनारे पड़ने वाले सभी गांव में अलर्ट घोषित किया गया है और सभी लोगों को बताया जा रहा है कि चमोली मैं ग्लेशियर फट गया है.

हापुड़ में एसडीएम ने बाढ़ चौकी को अलर्ट कर गंगा से सटे गांवों मे मुनादी करवा दी है. गंगा के किनारे पर बसे गांव को खाली कराया जा रहा है. एनडीआरएफ और पीएसी को अलर्ट किया गया है. गंगा किनारे से ग्रामीण हटाए जा रहे हैं. 

उत्तराखंड में तबाही के बाद बदायूं में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है. तीन तहसीलों में डीएम ने हाई अलर्ट किया है.  
सहसवान, बदायूं और दातागंज तहसील में हाई अलर्ट किया गया है. रिपोर्ट में 72 घंटे में गंगा का जलस्तर बढ़ सकता है. 

उत्तर प्रदेश के अमरोहा में भी अलर्ट किया गया है. गंगा के आसपास के 51 गांवों को अलर्ट किया गया है. एसडीएम धनोरा ने किया गांवों का दौरा किया है. 

चमोली की घटना को देखते हुए मेरठ के जिला प्रशासन ने गंगा के किनारे खादर क्षेत्र में अलर्ट किया है. गंगा किनारे बसे गांवों में खास सतर्कता बरती जा रही है. मेरठ के जिलाधिकारी गंगा के किनारे बंसे गांवों का दौरा कर रहे हैं. 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button