मुजफ्फनगर में आज होगी UP क्रिकेट एसोसिएशन की कार्य समिति की बैठक

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन की कार्य समिति की बैठक को लेकर मुजफ्फरनगर में आज खासी हलचल है।  इस बैठक में उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के कैलेंडर तय करने के साथ ही चयन समिति में बदलाव पर भी मुहर लगेगी। बैठक में आइपीएल के कमिश्नर राजीव शुक्ला के साथ ही यूपीसीए के कार्यवाहक सचिव युद्धवीर सिंह तथा अन्य निदेशक तथा वरिष्ठ पदाधिकारी शामिल होंगे। अगले महीने कानपुर में होने वाली यूपीसीए की वार्षिक सभा के मद्देनजर यह बैठक अहम् मानी जा रही है।मुजफ्फनगर में आज होगी UP क्रिकेट एसोसिएशन की कार्य समिति की बैठक

मुजफ्फरनगर क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) को यह बैठक कराने का मौका दूसरी बार मिला है। इसमें सत्र 2018-19 के लिए रणजी ट्रॉफी, अंडर-23 कर्नल सीके नायडू ट्रॉफी, अंडर-19 कूच बिहार ट्रॉफी, अंडर-16 विजय मर्चेट ट्रॉफी के मैचों के स्थान निर्धारण के साथ पुरुष तथा महिला क्रिकेट की सीनियर व जूनियर चयन समिति के साथ कोच, मैनेजर व सहायक स्टाफ के नाम भी तय होंगे। पदाधिकारियों व क्रिकेट से जुड़े लोगों की निगाह चयन समिति में तय होने वाले नामों पर टिकी है।

इस बैठक में आइपीएल चेयरमैन और यूपीसीए के निदेशक राजीव शुक्ला, सचिव युद्धवीर सिंह, झांसी से एमएम मिश्र, इलाहाबाद से ताहिर हसन, लखनऊ से शोएब अहमद व रियासत अली आदि शामिल रहेंगे। यह सब कल ही पहुंच गए थे। अध्यक्ष डॉ. यदुपति सिंहानियां, निदेशक प्रेमधर पाठक और नवनीत सहगल नहीं पहुंचे। इनके मीटिंग में शामिल होने की संभावनाएं भी काफी कम हैं।

लोढ़ा समिति पर भी मंथन

यूपीसीए की बैठक में लोढ़ा समिति पर सुप्रीम कोर्ट के आदेशों को लेकर भी मंथन संभव है। लोढ़ा समिति ने पदाधिकारियों से लेकर खेल पर नई नीति का विचार किया है। सभी राज्यों को इस नए नियम को लागू करना है। इसके लिए सुप्रीम कोर्ट ने एक माह का समय दिया है। इस मीटिंग में कई नई कमेटियां आकार लेंगी। इसमें सभी पदाधिकारी एक साथ होंगे इसलिए लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों पर सुप्रीम कोर्ट की ओर से जारी नई गाइड लाइंस के संघ पर पडऩे वाले कुछ नरम-गरम असर पर भी मंथन हो सकता है लेकिन यह मीटिंग के एजेंडे से अलहदा होगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

CM योगी का तीखा वार: कहा- अखिलेश की हालत ‘मान ना मान, मैं तेरा मेहमान’ वाली

उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा ने सपा प्रमुख