100 रुपये के नये नोट के लिए करना होगा लंबा इंतजार

- in कारोबार

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया 100 रुपये की नोट की पहली झलक जारी कर चुका है। माना जा रहा है कि इस नये नोट को बाजार में आने में फिलहाल एक साल का समय लग सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि नए नोट के लिहाज से देशभर के 2.4 लाख एटीएम को तैयार करना एक बड़ी चुनौती है। एक अनुमान के मुताबिक, नए नोटों के लिए देश के सभी एटीएम को तैयार करने में 100 करोड़ रुपये का खर्च आएगा।100 रुपये के नये नोट के लिए करना होगा लंबा इंतजार

सीएटीएमआइ के निदेशक और एफएसएस के अध्यक्ष वी. बालासुब्रमणियन ने कहा, ‘हमें एटीएम मशीनों को 100 रुपये के नए नोटों के अनुकूल बनाना होगा। देशभर में 2.4 लाख मशीनों को इनके अनुकूल बनाना होगा।’ उन्होंने कहा कि 100 रुपये के पुराने और नए दोनों तरह के नोटों का एक साथ प्रचलन में रहना भी कई चुनौतियों को जन्म देगा। दोनों तरह के नोट एटीएम से निकलने से यह उलझन भी रहेगी कि मशीनों में बदलाव होना भी नहीं है या नहीं। हितैची पेमेंट सर्विसेज के प्रबंध निदेशक लोनी एंटनी ने कहा कि देशभर की सभी एटीएम मशीनों को 100 रुपये के नए नोट के अनुकूल बनाने में 12 महीने का वक्त लगेगा और इस पर 100 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

उन्होंने कहा कि अभी तो मशीनें 200 रुपये के नए नोट के हिसाब से ही तैयार नहीं हुई हैं, ऐसे में समुचित तैयारी नहीं रही तो मशीनों को 100 रुपये के नए नोटों के अनुरूप बनाने में और वक्त लग सकता है। यूरोनेट सर्विसेज के प्रबंध निदेशक हिमांशु पुजारा ने कहा कि पूरी तरह स्वदेशी नोट की छपाई निसंदेह गर्व का विषय है, लेकिन इनके आकार में बदलाव से मुश्किल आएगी। इन्हें एटीएम के जरिये मुहैया कराना अभी कठिन होगा।

कैसा होगा 100 रुपये का नया नोट-

100 रुपये के नये नोट के पिछले हिस्से में यूनेस्को की विश्वदाय सूची में शामिल गुजरात के पाटन स्थित ‘रानी की बावड़ी’ दिखाई देगी। आमतौर पर लोगों के बीच कम चर्चित इस ऐतिहासिक इमारत को यूनेस्को ने बावड़ियों की रानी की उपाधि दी है। इसका इस्तेमाल देश की सभ्यता को दर्शाने के लिए किया गया है। नोट का असल रंग लैवेंडर (गहरा बैंगनी) होगा। आरबीआई ने स्पष्ट किया है कि नये नोट के जारी होने के बाद भी मौजूदा 100 रुपये के नोट वैध रहेंगे। आरबीआई के गवर्नर उर्जित पटेल ने कहा है कि केंद्रीय बैंक न्यू महात्मा गांधी सीरीज वाले 100 रुपये के नये नोट को जारी करने वाला है। इस पर बैंक के गवर्नर डॉ उर्जित आर पटेल के हस्ताक्षर भी होंगे।

ये होंगे सिक्योरिटी फीचर

नए नोट की सिक्योरिटी फीचर में सबसे प्रमुख गांधीजी का चित्र होगा। इस सिक्योरिटी फीचर को गुप्त रखा जाएगा, लेकिन यह नोट के रंग से कंट्रास्ट में होगा। नोट का रंग हल्का जामुनी होगा। आरबीआइ सूत्रों के अनुसार यही सबसे बड़ा सिक्योरिटी फीचर है। करीब दो दर्जन सूक्ष्म सिक्योरिटी फीचर बढ़ाए गए हैं, जो पुराने नोट में नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

यहां होगी ईशा अंबानी की सगाई, हॉलीवुड सेलिब्रिटीज की भी पसंदीदा जगह

शुक्रवार, 21 सितंबर को ईशा अंबानी और आनंद