जो इंग्लैंड में 130 साल में नहीं हुआ, कुछ ऐसा कर दिखाया भारत के इन तेज गेंदबाजों ने

- in खेल

नई दिल्ली. इंग्लैंड में भारतीय गेंदबाजी की तूती बोल रही है. टीम इंडिया के पेस अटैक के आगे इंग्लिश बल्लेबाजों का सरेंडर देखते बन रहा है. इसका सबसे ताजा उदाहरण नॉटिंघम में खेला तीसरा टेस्ट रहा जहां भारत के तेज गेंदबाजों ने 20 में से 19 विकेट चटकाए. इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में भारतीय पेस अटैक के शानदार प्रदर्शन पर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने भी कहा है, ” मौजूदा पेस अटैक सबसे दमदार है. भारतीय टीम में लंबे अंतराल के बाद तेज गेंदबाजी में ऐसी धार दिखी है. हमारा पेस अटैक इस वक्त दुनिया के किसी भी क्रिकेट टीम के मुकाबले बेहतर है.”

130 साल में पहली बार हुआ ऐसा

इंग्लैंड की धरती पर टीम इंडिया के पेस अटैक का सबसे जोरदार कमाल वो है जिसने वहां के 130 साल के इतिहास को बदल दिया है. भारतीय तेज गेंदबाजों ने ये कमाल विकेट के मामले में किया है. मौजूदा टेस्ट सीरीज में इंडियन पेसर्स हर 43.76 गेंद पर विकेट लेते दिखे हैं जो कि एक रिकॉर्ड है. इंग्लैंड में साल 1888 से लेकर अब तक कम से कम 3 या उससे ज्यादा टेस्ट मैच की सीरीज में किसी भी विरोधी टीम के पेसर्स ने इतनी कम गेंदों पर विकेट नहीं चटकाए हैं.

46 में से 38 विकेट भारतीय पेसर्स के नाम

इंग्लैंड के खिलाफ खेली टेस्ट सीरीज के 3 मैचों में भारतीय पेसर्स ने अब तक कुल 46 विकेट लिए हैं, जिसमें सबसे केवल 8 विकेट ही स्पिनर ले सके हैं. बाकी के 38 विकेट तेज गेंदबाजों ने लिए हैं. इनमें से सबसे ज्यादा 11 विकेट ईशांत शर्मा के नाम है. इसके अलावा पांड्या ने 9 विकेट, शमी ने 8 विकेट जबकि बुमराह को 7 विकेट मिले हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

14 महीने बाद वनडे में इस खिलाड़ी की हुई वापसी, मैदान पर फिर दिखा जादू

पिछले साल जुलाई के बाद अपना पहला वनडे