बेल्ट पहनते समय क्या आप भी मौत को देते है दावत, पढ़ें खास खबर

- in जीवनशैली

ज्यादातर लोगों की रोज कमर पर बेल्ट बांधने की आदत होती है। लेकिन ये आदत तब मुसीबत बन जाती है जब हम रोज टाइट बेल्ट बांधते हैं। इसके कारण दिनभर पेट की नर्व्स दबी रहती हैं। ऐसा लंबे समय तक करने से पेल्विक रीजन से निकलने वाली आर्टरी, वेन्स, मसल्स और आंतों पर प्रेशर पड़ता है। इसके कारण स्पर्म काउंट कम हो सकता है, जिससे पुरुषों की फर्टीलिटी घटने की आशंका बढ़ जाती है। आयुर्वेद एक्सपर्ट डॉ. अबरार मुल्तानी का कहना है कि अगर जरूरी नहीं है तो बेल्ट न पहनें और अगर पहनना ही है तो बेल्ट ढ़ीला करके पहनें। डॉ. मुल्तानी बता रहे हैं रोज बेल्ट पहनने के कुछ नुकसानों के बारे में।

बेल्ट पहनते समय क्या आप भी मौत को देते है दावत, पढ़ें खास खबर

रिसर्च क्या कहती है?

कोरियाई रिसर्चर्स ने 12 पुरुषों पर रिसर्च की जिसमें यह बात सामने आई कि कमर पर टाइट बेल्‍ट बांधने से एब्डॉमिनल मसल्स के काम करने का तरीका बदल जाता है। रिसर्च में यह भी साबित हुआ कि लंबे समय तक टाइट बेल्ट बांधने से रीढ़ की हड्डी में अकड़न आ सकती है। साथ ही सेंटर ऑफ ग्रेविटी में भी बदलाव आता है। इसके कारण घुटनों के जोड़ों पर भी जरूर से ज्यादा प्रेशर पड़ता है, जिससे ज्वाइंट पेन की प्रॉब्लम बढ़ती है।

महिलाओं को जरूर करा लेने चाहिए ये टेस्ट, वरना अंजाम कुछ भी हो सकताा है

टाइट बेल्ट बांधने का नुकसान –

पाचन क्रिया प्रभावित होती है |

एसिडिटी की समस्या हो सकती है |

कब्ज की समस्या हो सकती है |

पेरो की हड्डियाँ कमजोर हो सकती है |

स्पर्म काउंट कम हो सकता है |

कमर दर्द की शिकायत हो सकती है |

You may also like

किन्नर को भूल से भी कभी नहीं देना चाहिए ये एक चीजें, वरना हो जाओगे बर्बाद

शास्त्रों की अगर मानें तो किन्नर कि दुआ