जब सर्जिकल स्ट्राइक पर जैन मुनि ने केजरीवाल को सुनाई थी खरी-खरी

- in दिल्ली, राजनीति
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जैन मुनि के बड़े समर्थक रहे हैं, लेकिन फिर भी केजरीवाल को कई बार जैन मुनि की नाराजगी का सामना करना पड़ा।जब सर्जिकल स्ट्राइक पर जैन मुनि ने केजरीवाल को सुनाई थी खरी-खरी

एक बार तो वह अपनी पार्टी के समर्थक संगीतकार विशाल डडलानी के एक विवादित बयान की वजह से जैन मुनि के गुस्से का शिकार हुए थे तो एक बार अपने ही बयान के चलते उन्हें जैन मुनि की खरी-खरी सुननी पड़ी। अपनी इस कहानी में हम आपको केजरीवाल के उसी बयान के बारे में बता रहे हैं जिसकी वजह से वह जैन मुनि की नाराजगी के शिकार हुए थे।

बात साल 2016 की है जब भारतीय सेना ने 28-29 सितंबर को पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर पर आतंकियों के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक किया था। उस वक्त कई लोगों ने सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगे थे जिसमें केजरीवाल भी एक थे। उस वक्त केजरीवाल की इस बात के लिए जैन मुनि के निशाने पर आ गए थे।

‘डायन भी एक घर छोड़ देती है’

जैन मुनि उस वक्त केजरीवाल के बयान से इतने खफा हुए कि उन्होंने साफ-साफ कह दिया कि, ‘केजरीवाल ओछी राजनीति से बाज आएं। डायन भी एक घर छोड़ देती है। सेना के जवान हमारे असली हीरो हैं। उनकी आलोचना करने वाले नशे में हैं, होश में नहीं।’

गौरतलब है कि भारतीय सेना द्वारा किया गया सर्जिकल स्ट्राइक कश्मीर के उरी में किए गए हमले का जवाब था जिसमें हमारे 19 जवान शहीद हो गए थे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बसपा तैयार कर रही लोकसभा सीटों पर प्रत्याशियों की सूची

भाजपा के खिलाफ विपक्षियों के महागठबंधन से अलग