महाकालेश्वर मंदिर में एक घंटे में निरस्त हो जाएगा VIP दर्शन पास

- in मध्यप्रदेश, राज्य

उज्जैन। ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर से जारी वीआईपी दर्शन पास से अगर आपने एक घंटे के भीतर दर्शन नहीं किए तो यह निरस्त हो जाएगा। मंदिर प्रशासन ने गुरुवार से यह व्यवस्था लागू की है। इसके पीछे मकसद पास का दुरुपयोग रोकना है। दरअसल वीआईपी दर्शन के बाद मंदिर व्यवस्था से जुड़े कुछ लोग इनसे पास लेकर दोबारा उपयोग कर रहे थे। अफसरों को यह जानकारी लगी तो नई व्यवस्था लागू की गई।महाकालेश्वर मंदिर में एक घंटे में निरस्त हो जाएगा VIP दर्शन पास

मंदिर में बीते वीआईपी दर्शन व्यवस्था में बदलाव किया गया है। अब वीआईपी को भी पहले मंदिर कार्यालय से पास जारी कराना होता है। हालांकि इस पास से दर्शन करने की अवधि तय नहीं थी। इसके चलते कई लोग दर्शन करने के बाद वीआईपी से पास हासिल कर अन्य लोगों को बेच रहे थे। इससे पास का दुरुपयोग हो रहा था। हाल ही मंदिर प्रशासन को इसकी जानकारी लगी तो व्यवस्था में बदलाव किया गया। उप प्रशासक प्रीति चौहान ने बताया कि अब पास जारी करते समय इस पर समय अंकित किया जा रहा है।

वीआईपी श्रद्धालु को एक घंटे के भीतर दर्शन करने होंगे। इसके बाद पास स्वत: ही निरस्त हो जाएगा। इससे पास का दुरुपयोग रुकेगा। नए पास पर ऊपर निशुल्क पर्ची भी अंकित कर दी गई है। ताकि आम श्रद्धालुओं को इसका विक्रय ना किया जा सके।

वीआईपी के नाम पर दर्शन कराने पर लगी रोक

जब से मंदिर में वीआईपी दर्शन के लिए पास की व्यवस्था लागू की गई है, काफी हद तक वीआईपी के नाम पर रुपए लेकर दर्शन कराने पर रोक लगी है। दरअसल पास जारी कराने के लिए आईडी जरूरी है। इसलिए जो लोग आईडी दिखा रहे हैं, उन्हें ही पास मिल रहा है। ऐसे में वीआईपी दर्शन करने वालों की संख्या आधी रह गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने कहा- आयोगों में राज्यवासियों की हो रही उपेक्षा

देहरादून: प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय