Home > राष्ट्रीय > 3600 करोड़ का चूना लगाने वाले विक्रम कोठारी ने कहा- कानपुर में हूं

3600 करोड़ का चूना लगाने वाले विक्रम कोठारी ने कहा- कानपुर में हूं

हाल ही में पंजाब नेशनल बैंक में नीरव मोदी द्वारा 11,400 करोड़ रुपए का घोटाला सामने आया है। अब एक और कारोबारी के 800 करोड़ रुपए के घोटाले से हड़कंप मचा है। इस कारोबारी का नाम है विक्रम कोठारी जो रोटोमैक कंपनी के मालिक हैं। कानपुर के रहने वाले कोठारी ने पांच सरकारी बैंकों से 3600 करोड़ रुपए लोन लेने के बाद वापस नहीं किए हैं। माल रोड पर स्थित उनका ऑफिस पिछले एक हफ्ते से बंद है। सोशल मीडिया पर उनके देश छोड़कर भागने की खबरें छाई हुई थीं। जिसके बाद रविवार को उन्होंने बयान जारी कर कहा कि वह कानपुर में ही हैं। कोठारी रोटोमैक ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड के चेयरमैन और एमडी हैं। उन्होंने इलाहाबाद बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ोदा, इंडियन ओरवसीज बैंक और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के 800 करोड़ रुपए का लोन नहीं चुकाया है। हालांकि यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और इलाहाबाद बैंक के सूत्रों का कहना है कि कोठारी ने लोन ली गई राशि का ब्याज तक नहीं दिया है। बैंक के अंदरुनी सूत्रों के मुताबिक कोठारी को लोन देने के लिए नियमों के साथ समझौता किया गया है।

3600 करोड़ का चूना लगाने वाले विक्रम कोठारी ने कहा- कानपुर में हूंबैंक अधिकारी ने कहा कि वह माल रोड पर स्थित रोटोमैक के ऑफिस जा रहे हैं लेकिन वह बंद है। उन्होंने आरोप लगाया है कि कोठारी से फोन पर बात करने की उन्होंने कोशिश की लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। कोठारी ने रविवार को बयान जारी कर कहा- पहली बात इसे घोटाला मत कहिए। दूसरी बात मैं देश छोड़कर नहीं गया हूं और मैं कानपुर में ही हूं। बैंक ने मेरी कंपनी को नॉन परफॉर्मर संपत्ति घोषित किया है डिफॉल्टर नहीं। बैंकों से लिए गए कर्ज का केस नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) के पास है। मैंने लोन लिया है और जल्द ही उसे वापस कर दूंगा।

Loading...

Check Also

PM मोदी आज करने जा रहे हैं सबसे बड़ी गैस परियोजना की शुरुआत, इन राज्यों को होगा बड़ा फायदा

PM मोदी आज करने जा रहे हैं सबसे बड़ी गैस परियोजना की शुरुआत, इन राज्यों को होगा बड़ा फायदा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को शहरी गैस वितरण (सीजीडी) परियोजना को हरी झंडी दिखाएंगे। यह …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com