ये एडल्ट वीडियो के हैं वो सीन जो आपको नहीं दिखाए जाते कभी

- in 18+

नई दिल्ली. आज कल मोबाइल तो हर किसी के पास लगोंट की तरह हो गया है लेकिन ये मोबाइल तो आज कल सब के पास है लेकिन भैया लगोंट सब के पास कहाँ है आज काल. वैसे तो मोबाइल का उपयोग तो बहुत अच्छी बातों के लिए भी किया जाता है और किया जा रहा है. लेकिन जब ये मोबाइल टीन येजेर के पास होता है तो फिर लड़कों से भूले होही जाती है.

आप सब को बता दें कि आज के समय में एडल्ट फिल्में का व्यपार बहुत अधिक व्यपक हो चूका है. लोग ऐसी फिल्मों को बहुत देखते है. लेकिन इन फिल्मो को दकेह करा आप को जितना मजा आता है उसे करने वाले लोगों उसमें उतनी ही अधिक दिक्कत आती है आज हम आप को उस दुनिया के कुछ को हिस्सा आप को दिखाने जा रहे है जो कि आप को अन्दर तक झकझोर देगा. आज हम आप को बता रहे है कि एडल्ट स्टार का काम कितना मुश्किल और चुनौतियों से भरा होता है…

सेक्स एक बहुत ही निजी चीज है जिसे कोई भी दिखाना नहीं चाहता है लेकि एक एडल्ट स्टार को ये सब करना पड़ता है सबके सामने. इस तरह का काम करने वाले भी इन्सान ही होते है तो उनके अंदर भी झिझक होती है. लेकिन उनका काम उन्हें इसकी इजाजत नही सेता है.

आप जब देखते है वो कुछ ही समय का होता है लेकिन किसी फिल्म की शूटिंग 20 या फिर 30 मिनट की नहीं होती बल्कि उसकी शूटिंग में घंटों का समय लगता है.इस दौरान एडल्ट स्टार का काम होता है कि वो खुद को इरेक्टेड रखे। #3

इस तरह की कम करने वाली फीमेल एडल्ट स्टार्स को शूटिंग से पहले खाना खाने से मनाही होती है. इसका कारण ये होता है कि वीडियो में उनका पेट सपाट दिखे.

जैसा कि आप को पहले ही बताया कि फिल्म की शूटिंग घंटों चलती हैं इसलिए एडल्ट स्टार को बिना वायाग्रा या दवाओं के खुद को उत्तेजित रखना होता है. वियाग्रा जैसी दवाओं का सेवन इसलिए वर्जित होता है कि उससे उनका चेहरा लाल हो जाता है और कैमरे पर ठीक नहीं दिखता.

आप को ये जान कर और भी अचम्भा होगा कि एडल्ट फिल्म इंडस्ट्री में एंट्री के लिए कठीन स्क्रीन टेस्ट से गुजरना होता है. इसमें भी बिल्कुल किसी फिल्म के ऑडिशन के जैसे ही होता है लेकिन इसमें काम कुछ अलग होता है.

सामन्य रूम में देखा जाता है कि एडल्ट स्टार्स कॉन्डम यूज़ नहीं करते. जिसकी वजह से उन्हें एचआईवी होने का खतरा ज्यादा होता है.

सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि जैसा आपको फिल्म देखकर महसूस होता है वैसा एडल्ट एक्टर्स को महसूस नहीं होता. उन्हें किसी वीडियो को शूट करने में ऐसे पोज़ में रहने में तकलीफ होती है जिसमें वो बिलकुल भी कंफर्टेबल नहीं होते हैं.

अब जो बता रहे है उसे आप अमानवीय भी कह सकते है क्योकि कभी कभी पीरियड्स होने के बावजूद भी फिमेल स्टार्स को शूट करना पड़ता है. इस पेशे में छुट्टी नहीं होती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पार्टनर को लाना है करीब तो अपनाएं ये आसान टिप्स

रिश्ते बहुत नाजुक होते हैं। कई बार हम