इशांत के गुस्से से ऑस्ट्रेलिया को आई पर्थ टेस्ट की याद!

इशांत शर्मा की अग्रेसिव गेंदबाज़ी की मदद से टीम इंडिया ने रांची में जारी तीसरे टेस्ट के पांचवे दिन मुकाबले को अपनी मुट्ठी में जकड़ लिया है. इशांत को गुस्सा दिलाना मैट रेनशॉ को भारी पड़ा जिसके बाद इशांत शर्मा ने लाजवाब गेंदबाज़ी का मुज़ाअरा पेश करते हुए स्मिथ और रेनशॉ के बीच चल रही अहम साझेदारी को तोड़ा. इसके साथ ही इशांत ने साल 2008 में पर्थ के मैदान पर घटे पॉन्टिंग और इशांत घटनाक्रम को फिर से ज़िंदा कर दिया.

जी हां, आज ऑस्ट्रेलियाई पारी के 29वें ओवर में इशांत शर्मा को ऑस्ट्रेलियाई ओपनर मैट रेनशॉ का गुस्सा दिलाना बेहद भारी पड़ा. ये पूरा मामला शुरू हुआ 29वें ओवर की शुरूआत में जब इशांत अपना लॉंग रनअप लेते हुए गेंद डालने के लिए आगे बढ़े लेकिन मैट रेनशॉ आखिरी पल में विकेटों के सामने से हट गए जिसके बाद इशांत ने गुस्से में गेंद को विकेटकीपर के पास फेंक दिया. लेकिन उसके बाद इशांत ने सटीक लाइन और लेंग्थ का बेहतरीन नमूना पेश किया और रेनशॉ को ओवर की चौथी गेंद फेंकी जो सीधे जाकर विकेटों के बीचों बीच उनके पैड पर लगी और अंपायर ने इसे आउट करार दिया.

 

लेकिन इस घटना ने साल 2008 में पर्थ की यादें भी ताजा कर दी जब इशांत ने लाजवाब स्पेल डालते हुए ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पॉन्टिंग को स्लिप में राहुल द्रविड़ के हाथों कैच आउट कर दिया था. इशांत शर्मा के उस गेंदबाज़ी स्पेल को आज भी याद किया जाता है. इशांत ने पर्थ टेस्ट की पहली पारी में कप्तान पॉन्टिंग और क्लार्क के दो अहम विकेट चटकाकर टीम इंडिया को मैच में बना दिया था. इशांत ने उस पारी नें पॉन्टिंग का विकेट तब चटकाया जब वो अपनी टीम को शुरूआती झटकों से उबारने की कोशिश में लगे थे.

इसके बाद एक बार फिर दूसरी पारी में भी इशांत ने लाजवाब स्पेल डालते हुए रिकी पॉन्टिंग को स्लिप में द्रविड़ के हाथों कैच आउट करवा दिया.

 

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published.