वित्तीय प्रबंधन के मोर्चे पर उत्तराखंड सरकार ने दिया बड़ा बयान

वित्तीय प्रबंधन को लेकर प्रदेश सरकार कमाई के मोर्चे पर जहां सुधार की ओर है तो वहीं खर्च के मामले में वह बेबस नजर आ रही है। खर्चों में कटौती और कमाई में बढ़ोत्तरी करने के तमाम उपायों के बाद उसे कुछ कामयाबी तो मिली है, लेकिन वेतन और मजदूरी के खर्च उसके काबू से बाहर हैं। इस साल चार माह में उसने वेतन और मजदूरी पर 4382 करोड़ रुपये खर्च दिए हैं। पिछले साल का खर्च 3622.27 करोड़ रुपये था। इस लिहाज से वेतन पर खर्च में बढ़ोत्तरी हुई है। 

लेकिन सरकार के लिए संतोष की बात यह है कि उसने कर राजस्व, स्टाम्प और रजिस्ट्रेशन शुल्क, आबकारी, खुद के संसाधनों से (नान टैक्स रेवन्यू) व भू राजस्व से होने वाली आय को बढ़ाया है। कुल मिलाकर इस वित्तीय वर्ष में 31 जुलाई तक सरकार की 11138.05 करोड़ की कमाई थी, जबकि खर्च 11094.43 करोड़ रहा। हालांकि पिछले साल की आय और व्यय (9734.71 करोड़) तुलना में उसकी कमाई और खर्च की दर में बढ़ोत्तरी हुई है।

जीएसटी से लगा झटका, केंद्रीय इमदाद भी कम
लेकिन प्रदेश सरकार की जीएसटी से झटका लगा है। पिछले साल चार महीनों के दौरान वैट से उसने जितनी आय अर्जित की थी, उसकी तुलना में जीएसटी से होने वाली इनकम में काफी कमी है। सरकार ने 14 फीसदी राजस्व बढ़ोत्तरी का लक्ष्य रखा था, लेकिन यह सात फीसदी से आगे नहीं खिसक पाया है। हालांकि केंद्र सरकार इसकी प्रतिपूर्ति कर रहा है, लेकिन इसमें यदि सुधार होता तो सरकार की आर्थिकी को और मजबूती मिलती। इतना ही नहीं पिछले चार महीनों के दौरान केंद्र पोषित योजनाओं राज्य को गत वर्ष की तुलना में कम राशि (2020 करोड़) प्राप्त हुई है। पिछले साल इसी अवधि में प्रदेश को 2731 करोड़ रुपये मिल चुके थे।

आय में बढ़ोत्तरी, खर्चों में कटौती और मितव्ययित पर हमारा खास फोकस है। वित्तीय सुधारों के नतीजे धीरे-धीरे सामने आएंगे। अवस्थापना कार्यों के लिए हम वाह्य सहायतित योजनाओं की मदद ले रहे हैं। केंद्र पोषित योजनाओं में लगातार धनराशि आए, इसके लिए समय पर यूटीलाइजेशन सर्टिफिकेट पर जोर दिया जा रहा है। आबकारी का 2500 करोड़ का लक्ष्य रखा गया है, जिसे वित्तीय वर्ष की समाप्ति तक प्राप्त कर लेंगे। – प्रकाश पंत, वित्त मंत्री

वेतन एवं मजदूरी खर्च में व्यय
माह    2018-19    2017-18
अप्रैल    1325.09    1799.65
मई    98.74    375.64
जून    1015.40    753.08
जुलाई    1061    693.90
कुल    4382.84    3622.27

सुधार की ओर है इनकम
कर राजस्व
2018-19    2017-18
5897.19    5819.51

स्टांप और रजिस्ट्रेशन
2018-19    2017-18
349.92    276.55
 
भू राजस्व
2018-19    2017-18
16.98    2.80

आबकारी
2018-19    2017-18
1045.71    839.91

नान टैक्स रेवन्यू
2018-19    2017-18
482.64    340.26

Loading...

Check Also

तबाही रोकने के लिए अब विमान की मदद से लिए जाएंगे बादलों के नमूने

तबाही रोकने के लिए अब विमान की मदद से लिए जाएंगे बादलों के नमूने

कहां और क्यों फटते हैं बादल? मानवीय गतिविधि बादल फटने की घटनाओं को किस प्रकार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com