UP: सीएम के हेल्पलाइन दफ्तर में लड़कियों को किया कैद, टॉर्चर के कारण हुईं बेहोश

Loading...

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ की हेल्पलाइन पर लोग अपनी परेशानी हल करने के लिए कॉल करते हैं. लेकिन हेल्पलाइन के दफ्तर में ही काम करने वाली युवतियों को टॉर्चर किए जाने का मामला सामने आया है. आरोप है कि महिला कर्मचारियों को एक कमरे में बंद कर दिया गया था. जहां उन्हें इतना टॉर्चर किया गया कि कई कर्मचारी बेहोश हो गईं. बताया जा रहा है कि चार महीने से वेतन नहीं मिलने के कारण महिला कर्मचारी विरोध करते हुए उन्हें सैलरी दिए जाने की मांग कर रही थीं, जब उन्हें ऑफिस के अधिकारियों ने कमरे में बंद कर दिया.

UP: सीएम के हेल्पलाइन दफ्तर में लड़कियों को किया कैद, टॉर्चर के कारण हुईं बेहोश

वेतन मांगने पर किया कमरे में कैद
यूपी के गोमतीनगर के विभूतिखंड में साईबर हाईट में सीएम हेल्पलाइन संचालित की जाती है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, वेतन नहीं मिलने के कारण विरोध कर रहीं करीब 20 युवतियों को शुक्रवार सुबह एक कमरे में बंद कर दिया गया. युवतियों ने आरोप लगाया कि उनके ट्रेनर और सुपरवाइजर अनुराग व आशुतोष ने उनसे जबरन सफेद कागज पर साइन करवा लिए. उन्हें अपशब्द सुनाते हुए बदतमीजी की गई.

लड़कियों ने आरोप लगाया कि इस दौरान कुछ लड़कियों के साथ अभद्रता भी की गई. उनके दुपट्टे तक गले से खींच लिए गए. टॉर्चर के कारण कई लड़कियां बेहोश हो गईं. उनके बेहोश होते ही हड़कंप मच गया. इस बीच ये भी अफवाह उड़ी की कर्मचारियों ने जहर खा लिया है. इसके बाद युवतियों को तुरंत कमरे में से निकाला गया और उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां उनका इलाज जारी है.

पुलिस पर भड़के कर्मचारी
मामले की सूचना मिलने पर पुलिस भी हेल्पलाइन के ऑफिस और अस्पताल पहुंची. नाराज महिला कर्मचारी उनसे भी भिड़ गईं. मामले की सूचना मिलने पर पुलिस भी हेल्पलाइन के ऑफिस और अस्पताल पहुंची. नाराज महिला कर्मचारी उनसे भी भिड़ गईं. जानकारी मिलने पर एसपी भी मौके पर पहुंचे और कर्मचारियों को समझाने की कोशिश की लेकिन वे लगातार हंगामा करते हुए हेल्पलाइन के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की मांग करते रहे.

अधिकारियों ने दिया जांच का आश्वासन
हेल्पलाइन के अधिकारियों ने युवतियों के टॉर्चर किए जाने के आरोपों को गलत बताया है. हालांकि, उन्होंने कहा कि मामले में लड़कियों से तहरीर मांगी गई है, जिसके आधार पर शिकायत की जांच की जाएगी. इस दौरान उन्होंने वेतन के संबंध में अपर मैनेजमेंट से बात करने की बात भी कही. उन्होंने विश्वास दिलाया कि कर्मचारियों को जल्द ही उनका वेतन दे दिया जाएगा.

 
Loading...
loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com