यूपी: दिल्ली से सटे हापुड़ में बड़ा हादसा, ट्रेन के इंजन से कटकर 6 युवकों की मौत

दिल्ली से बेहद करीब हापुड़ के नगर के गांधी रेलवे क्रॉसिंग के पास दर्दनाक हादसा हो गया जब ट्रेन के इंजन की चपेट में आने से 6 युवकों की कटकर मौके पर ही मौत हो गई, वहीं, एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। दुर्घटना की सूचना पर डीएम व एसपी सहित अधिकारियों की टीम मौके पर पहुंची। शवों को पोस्टमार्टम कराने के साथ हादसे की जांच शुरू कर दी गई है। 

यूपी: दिल्ली से सटे हापुड़ में बड़ा हादसा, ट्रेन के इंजन से कटकर 6 युवकों की मौत

पूरा हादसा रविवार रात करीब 8:45 बजे नगर के गांधी फाटक के पास हुआ। बताया जा रहा है कि कुछ युवक पटरियों के किनारे चल रहे थे। इस दौरान दिल्ली मुरादाबाद रेलवे ट्रैक पर दिल्ली की ओर से आ रहे इंजन की चपेट में सात युवक आ गए।

 जानकारी सामने आई है कि सभी सातों युवक रंगाई पुताई का काम करते थे। रंगाई पुताई का ठेका मिलने पर गाजियाबाद से हैदराबाद जाने वाले थे। बताया जा रहा है कि ट्रेन छूटने के चलते पटरियों के रास्ते घर लौटने लगे।

इस हादसे में सर्वोदय नगर के विजय व आकाश व सद्दीकपुरा के सलीम, समीर, अजय व आरिफ की मौके पर ही मौत हो गई। घायल युवक का नाम राहुल है। युवकों की मौत की सूचना पर डीएम कृष्णा करुनेश, एसपी हेमंत कुटियाल सहित पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। 

नसीमुद्दीन सिद्दीकी की एंट्री से यूपी कांग्रेस में विरोध के स्वर

कहीं ईयर फोन का इस्तेमाल तो नहीं बना कारण

पिलखुवा के गांधी रेलवे क्रॉसिंग के पास रेलवे ट्रैक पर बैठे सात युवकों की मौत के बाद भिन्न तरह के सवाल खड़े हो गए हैं। सबसे अहम सवाल यह खड़ा हो गया है कि दिल्ली की ओर से आ रहे इंजन की आवाज आखिरकार सभी युवक सुन क्यों नहीं पाए। ऐसा तो नहीं कि सभी युवक ईयरफोन लगाए हुए थे। हालांकि इस बात की पुष्टि पुलिस- प्रशासन के अधिकारी नहीं कर रहे हैं, लेकिन आसपास के लोगों की जुबां पर यह सवाल बार-बार उठ रहा था।

 रविवार देर रात मोहल्ला सद्दीकपुरा, सर्वोदय नगर के रहने वाले सात युवक रेलवे ट्रैक पर बैठकर वार्ता कर रहे थे। तभी दिल्ली की ओर से आए एक इंजन की चपेट में आकर छह युवकों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक युवक ¨जदगी और मौत के बीच झूल रहा है। इस दर्दनाक हादसे के बाद पुलिस-प्रशासन हादसे की वजह तलाशने का प्रयास कर रहा है।

पुलिस सूत्रों की मानें तो अभी तक की जांच में पुलिस को पता लगा है कि संभवतय: सातों युवक कानों में ईयरफोन लगाकर या तो गाने सुन रहे थे या फिर बात कर रहे थे। या फिर हो सकता है कि जिस ट्रैक पर सातों युवक बैठे थे, दोनों ही ट्रैक पर ट्रेनें आ गई हों। हालांकि अभी हादसों के कारणों का पता नहीं लग पाया है।

पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल ने बताया कि हादसे की जांच कराई जा रही है। अभी तक की जांच में कानों में ईयरफोन और रेलवे ट्रैक के दोनों तरफ ट्रेन आने की बात सामने आ रही है।

Loading...

Check Also

लापरवाही से दून-नैनी एक्सप्रेस हुई लेट, हरिद्वार में पटरी से उतरी मालगाड़ी

लापरवाही से दून-नैनी एक्सप्रेस हुई लेट, हरिद्वार में पटरी से उतरी मालगाड़ी

रेलवे की कार्यशैली भी गजब है। सोमवार शाम रेलवे कर्मचारियों की लापरवाही के चलते दून-नैनी …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com