यूपी: 16 जिलों में लगेगी सीटी स्कैन मशीन, मुफ्त में होगी जांच…

सिर की बीमारी व चोट लगे मरीजों को और बेहतर इलाज मिलने की आस जगी है। प्रदेश के 16 और जिलों में सिटी स्कैन मशीन लगाई जाएगी। इससे मरीजों की समय पर जांच हो सकेगी। साल के अंत तक सुविधा मरीजों को मिलेगी।

अभी प्रदेश के 48 जिलों में सिटी स्कैन मशीन लगाई गई है। पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मॉडल पर जिला अस्पतालों में मशीन का संचालन हो रहा है। यह जांच पूरी तरह से मुफ्त हो रही है। इससे मरीजों को काफी राहत मिली है। स्वास्थ्य विभाग के महानिदेशक डॉ. वेद व्रत सिंह के मुताबिक 16 जिलों में प्राथमिकता के तौर पर सीटी स्कैन मशीन लगाने की कवायद चल रही है। कई अस्पतालों में तो हॉल का निर्माण कार्य आखिरी दौर में है।

समय पर मिलेगा इलाज

महानिदेशक के मुताबिक सिर में लगी चोट की समय पर पहचान जरूरी है। इससे इलाज में आसानी होती है। वहीं सिर के ट्यूमर आदि की पहचान समय से जरूरी है। इससे सटीक इलाज मुमकिन है। बड़े जिलों में प्राथमिक के आधार पर मशीन लगाई जा रही है। जल्द ही बाकी जिलों में भी मशीन लगाने की कवायद होगी।

मुफ्त होगी जांच

पीपीपी मॉडल पर लगने वाली सीटी स्कैन मशीन से मुफ्त जांच होगी। सरकार सीधे कंपनी को भुगतान करेगी। जबकि प्राइवेट डायग्नोस्टिक सेंटर में 700 से 1200 रुपये में जांच हो रही है। इससे मरीजों को काफी राहत मिलने की उम्मीद है। लखनऊ के सिविल व लोहिया संस्थान में पीपीपी मॉडल पर सीटी स्कैन का संचालन हो रहा है। बलरामपुर अस्पताल में आरडीसी (रीजनल डायग्नोस्टिक सेंटर) योजना के तहत मशीन लगी है। इसका 500 रुपये शुल्क तय है। आयुष्मान व बीपीएल मरीजों की मुफ्त जांच हो रही है।

इन जिलों में होगी सुविधा

अमरोहा, बरेली, एटा, झांसी, मैनपुरी, गाजियाबाद, कानपुर देहात, संभल, कानपुर नगर, गोंडा, अयोध्या, शामली, मिर्जापुर, प्रतापगढ़, रविदास नगर और लखनऊ में लोकबंधु अस्पताल में लगाने की तैयारी है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button