संयुक्त राष्ट्र: दुनिया में तेजी से हो रहे जलवायु परिवर्तन के प्रति यूएन के जनरल सेक्रेटरी ने विश्व के सभी देशों को चेताया है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने केरल में आई विनाशकारी बाढ़ और कैलिफोर्निया में लगी जंगल की आग पर गंभीर चिंता व्यक्त की है. उन्होंने हुए कहा कि जलवायु परिवर्तन ‘हमसे भी तेज रफ्तार से घटित हो रहा है’. इसके साथ ही उन्होंने भविष्य में उत्पन्न होने वाले इससे भी बड़े जलवायु संकट को रोकने के लिए तत्काल कार्रवाई करने का आह्वान किया. संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा कि पिछले साल हजारों लोगों की मौत हुई और 320 अरब डॉलर का नुकसान हुआ, जिसके लिए जलवायु संबंधित आपदा जिम्मेदार रही है.

बुधवार को यूएन मुख्यालय में ‘2018, नई जलवायु आर्थिक रिपोर्ट’ पेश करते हुए गुटेरेस ने कहा, ”जलवायु परिवर्तन हम से भी तेज रफ्तार से घटित हो रहा है. इसके प्रभाव विनाशकारी रहे हैं और सबसे गरीब लोग तूफान, बाढ़, सूखा, जंगल की आग और समुद्र के बढ़ते जलस्तर से सबसे पहले और सबसे बुरी तरह प्रभावित हुए हैं.’’

महासचिव गुटेरेस ने कहा, ”इस साल, हमने भारत के केरल में विनाशकारी बाढ़, कैलिफोर्निया और कनाडा में जंगल की आग देखी और उत्तरी गोलार्द्ध के मौसम के स्वरूप को प्रभावित कर रही आर्कटिक क्षेत्र में बढ़ ही गर्मी को महसूस किया . सब कुछ बेहद साफ है. रिकॉर्ड के मुताबिक,  पिछले 19 सालों में 18 साल बहुत गर्म रहे और वायुमंडल में ग्रीनहाउस गैस सांद्रता बढ़ती जा रही है.”

बता दें कि दक्षिण भारतीय राज्य केरल को इस साल 100 साल के इतिहास में सबसे भयानक बाढ़ का सामना करना पड़ा. करीब 80 बांधों में पानी का प्रवाह बेहद बढ़ गया और 370 से अधिक लोगों को जान गंवानी पड़ी. केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने कहा था कि बाढ़ से प्रभावित 12 लाख लोग राज्य के 3,314 राहत शिविरों रह रहे हैं.