इन मछलियों को पालना, समझिये आप बन सकते हैं…

- in जीवनशैली

आज कल के मार्डन ज़माने में भी एेसे बहुत से लोग हैं जो वास्तु और फैगंशुई में विश्वास करते हैं। वास्तु भारत का और फैंगशुई चीन का एक एेसा शास्त्र है जिसमें मनुष्य को अपने जीवन की कई समस्याओं का समाधान मिल सकता है। इन मछलियों को पालना, समझिये आप बन सकते हैं...

चीन के साथ-साथ भारत में भी फेंगशुई का प्रचलन दिन भर दिन बढ़ता जा रहा है। इसके अनुसार धातु की बनी कुछ चीज़ों को घर में रखने से घर संबंधित कई मुश्किलों से निजात मिल सकती है। फिश एक्वेरियम रखने का प्रचलन कई घरों में है। घर हो या ऑफिस कहीं पर भी एक्वेरियम रखा जा सकता है इसको रखने से घर में धन का आगमन होना शुरु हो जाता है। 

एक्वेरियम रखने से परिवार पर आने वाली समस्याएं टल जाती हैं। मानना है कि मछलियां घर पर आने वाले सकंट को अपने ऊपर ले लेती हैं। फेंगशुई में कुछ नियम हैं, जिनका पालन करते हुए एक्वेरियम रखा जाए तभी इसका पूरा लाभ मिल सकता है। घर में एक्वेरियम को उत्तर-पूर्व दिशा में रखना ही शुभ माना जाता है।

शादीशुदा जीवन को खुशहाल बनाने के लिए इसे मुख्य द्वार के बाईं ओर रखें।एक्वेरियम को किचन और बेडरूम में रखनें से घर में नकारात्मक ऊर्जा का वास होता है। एक्वेरियम का पानी समय-समय पर बदलतें रहना चाहिए, इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है।

मछलियां की गिनती 9 ही होनी चाहिए, 8 मछलीयां लाल रंग की और एक काले रंग की ही होनी चाहिए। फेंगशुई के अनुसार, काली रंग की मछली से घर के लोगों पर किसी भी तरह की बुरी नज़र नहीं लगती है।मरी हुई मछली को तुरंत निकालकर नदी या तालाब में बहा दें, नहीं तो मिट्टी में दबा देना चाहिए। फेंगशुई के मुताबिक जब कोई मछली मरती है तो अपने साथ घर पर आने वाले संकट को साथ लेकर चली जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

खाली पेट भूलकर भी न खाएं यह 8 चीजें, वरना खुद पढ़ ले…

हमारा दिन कैसा रहेगा रहता है? हमारी शारीरिक