उमा भारती ने गुप्तकाशी में श्रमदान कर स्वच्छता का दिया संदेश

- in उत्तराखंड

रुद्रप्रयाग : पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री उमा भारती ने गुप्तकाशी में स्वच्छता में श्रमदान कर ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान का शुभारंभ किया। उन्होंने स्थानीय नागरिकों के साथ बाजार में सफाई की। कहा कि प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत अभियान का सपना तभी पूरा हो पाएगा, जब आम जन स्वच्छता के महत्व को आत्मसात कर इसे व्यवहार में भी उतारे।

उन्होंने एलान किया कि रुद्रप्रयाग जिले में गौरीकुंड को सुंदर गांव बनाने के लिए चिह्नित किया गया है। यहां ठोस एवं अपशिष्ट कूडे के निस्तारण के लिए कार्ययोजना तैयार कर ली गई है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में पेयजल संकट को दूर करने के लिए केंद्र शत-प्रतिशत सहयोग देगा।शनिवार को केंद्रीय मंत्री उमा भारती केदारनाथ से गुप्तकाशी पहुंची।

अभियान का शुभारंभ करते हुए उन्होंने कहा कि  15 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक देशभर में स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है। कहा कि अभियान तभी सफल हो पाएगा, जब सभी नागरिक इसमें मनोयोग से जुटेंगे। उन्होंने कहा कि अब गांवों को खुले में शौच से मुक्त करने के साथ सुंदर बनाने का लक्ष्य भी रखा गया है। इसी के तहत पायलेट प्रोजेक्ट के तौर पर गौरीकुंड का चयन किया गया।

इस अवसर पर उत्तराखंड के पेयजल मंत्री प्रकाश पंत ने कहा कि हम स्वयं की स्वच्छता के प्रति तो जागरूक हैं किंतु समाज को लेकर भी यह जागरूकता दिखनी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के आह्वान पर आज करोड़ों लोग स्वच्छता की मुहिम से जुड़े हैं। अभियान के दौरान गुप्तकाशी में बांज व देवदार के 30 प्रजतियों के पौधे भी रोपे गए।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

CM त्रिवेंद्र सिंह रावत का बड़ा बयान, कहा- एक देश एक चुनाव का संकल्प जरूरी

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एक देश एक