UK क्रांति दल के केंद्रीय अध्यक्ष दिवाकर भट्ट ने भाजपा सरकार पर तंज कसते हुए कही ये बड़ी बात

उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय अध्यक्ष दिवाकर भट्ट ने भाजपा सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने आरोप लगाया कि जीरो टॉलरेंस की बात करने वाली त्रिवेंद्र सरकार भ्रष्टाचार में डूबी है। भट्ट ने कहा कि उक्रांद भाजपा के जीरो टॉलरेंस की पोल जनता के बीच जाकर खोलेगी। किसानों के आंदोलन का भी उन्होंने समर्थन किया।

दल के कचहरी रोड स्थित कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता में उन्होंने कहा कि रिंग रोड पर भाजपा कार्यालय की भूमि संदेह के घेरे में है। यह आरोप लगाया कि भूमि रानी पद्मावती और सीलिंग की भूमि है। भाजपा ने किस तरह से इसका बैनामा किया, स्पष्ट करना चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के विधायक और नेता तक सरकारी भूमियों पर कब्जे कर रहे है। दून में ही भाजपा के एक वरिष्ठ नेता बल्लूपुर में अवैध निर्माण कर रहे है। आवासीय भूखंड पर व्यावसायिक काम्पलेक्स बनाया जा रहा है।

स्थानीय निवासियों ने जब इसकी शिकायत की तो उन्हें धमकाया जा रहा है। दल आगमी विधानसभा चुनाव में 70 विधानसभा सीटों पर दमदार तरीके से लड़ेगा। साथ ही क्षेत्रीय ताकतों एवं संगठनों को साथ में लेकर चलेगा। भट्ट ने कहा कि दल में पुराने साथियों की वापसी कराई जाएगी। जिसके लिए वरिष्ठ नेताओं की एक कमेटी प्रयास करेगी। इस मौके पर सुरेंद्र सिंह पांगती, सुनील ध्यानी, पीसी थपलियाल, सुरेंद्र कुमार, प्रमिला रावत, समीर मुंडेपी, शिवप्रसाद सेमवाल, बृजमोहन सिंह सजवाण आदि उपस्थित रहे।

भाजपा सरकार में राजधानी में महफूज नहीं महिलाएं : रजिया बेग

आम आदमी पार्टी (आप) की प्रदेश उपाध्यक्ष रजिया बेग ने कहा कि भाजपा की सरकार में राजधानी में भी  महिलाएं महफूज नहीं हैं। महिलाओं के प्रति बढ़ती अपराध की घटनाएं चिंताजनक है। अपराधियों में पुलिस-प्रशासन का खौफ नजर नहीं आ रहा है। उन्होंने हाल ही में रायपुर क्षेत्र में दिव्यांग युवती के साथ दुष्कर्म की घटना पर सरकार व पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए हैं।

आप उपाध्यक्ष रजिया बेग ने बुधवार को प्रेस को जारी बयान में कहा कि देहरादून का माहौल और वातावरण दिनों-दिन महिलाओं के लिए भयावाह होता जा रहा है। भाजपा सरकार में महिलाएं सुरक्षित नहीं है। यही कारण है कि अपराधियों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं। उन्होंने कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि अगर राजधानी में अपराधी बेखौफ होकर अपराध को अंजाम देंगे तो उत्तराखंड के अन्य जिलों में महिलाएं कैसे सुरक्षित रह सकती हैं। उन्होंने नए डीजीपी और सरकार से मांग की है कि प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा के लिए ठोस कानून बनें, ताकि प्रदेश में हमारी मां बहनें और बेटियां महफूज रह सकें।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button