UK के मैदानी इलाकों का अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की हुई बढ़ोत्तरी

मानसून की रफ्तार धीमी पड़ते ही प्रदेश के मैदानी इलाकों का अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार आने वाले दो दिनों तक प्रदेश के पहाड़ी क्षेत्रों में कहीं-कहीं गरज के साथ एक दो दौर तेज बारिश की बौछारें पड़ने की संभावना है।

Loading...

पिछले दिनों हुई भारी बारिश के बाद से अभी तक 91 संपर्क मार्ग अवरुद्ध हैं। ऋषिकेश-बदरीनाथ हाइवे लामबगढ़ के पास पत्थर गिरने से दोपहर बाद साढ़े तीन बजे से डेढ़ घंटे अवरुद्ध रहा। इस दौरान चमोली जिले में कहीं-कहीं  बारिश हुई। जबकि रुद्रप्रयाग, पौड़ी, टिरी एवं उत्तरकाशी में दिनभर हल्के बादल छाये रहने से मौसम सुहावना बना रहा।

गुरुवार को दून और आसपास के इलाकों में दो से तीन बार हल्की बारिश हुई। हालांकि कुछ देर बाद फिर से धूप खिलने से उमस महसूस की गई। दून का अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 32.3 व न्यूनतम तापमान 23.3 डिग्री सेल्सियस रहा। जबकि हरिद्वार में अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस अधिक 33.2 व 24.9 डिग्री सेल्सियस रहा। इस दौरान कुमाऊं मंडल में पिथौरागढ़ एवं बागेश्वर जिलों के पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश हुई, जबकि निचले इलाकों में बादल छाये रहे।

पिछले 24 घंटे में उधमसिंह नगर जिले में 38.2 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई। मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि आने वाले दो दिनों तक पर्वतीय क्षेत्र में कहीं-कहीं हल्की से लेकर मध्यम बारिश का अनुमान है।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *