पटना के गांधी मैदान में आज शान से फहराया तिरंगा, रंगारंग झांकियों की धूम

पटना। 15 अगस्त पटना के गांधी मैदान में मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने झंडोत्तोलन किया। स्वतंत्रता दिवस समारोह के लिए गांधी मैदान की सुरक्षा सख्त रही। सुबह छह बजे से ही सभी गेटों पर दंडाधिकारी व पुलिस अधिकारी बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों के साथ तैनात रहे। समारोह के दौरान विभिन्‍न विभागों की रंगारंग झांकियां आकर्षण का केंद्र बनीं रहीं। 

सुबह छह बजे से ही मिला प्रवेश 

समारोह के लिए गांधी मैदान के गेट आम जन के लिए सुबह छह बजे ही खोल दिए गए थे। गेटों से जांच के बाद गांधी मैदान में प्रवेश दिया गया। आम व खास लोगों, झांकियों व परेड आदि के लिए अलग-अलग गेट बनाए गए थे।   12 एम्बुलेंस के साथ तैनात रहे चिकित्‍सक 
स्वतंत्रता दिवस समारोह के अवसर पर गांधी मैदान में 12 एंबुलेंस चिकित्सक, पारा मेडिकल स्टाफ एवं आवश्यक उपचार की सामग्री, दवा एवं उपकरणों के साथ कैम्प करते रहे। साथ ही पीएमसीएच सहित निजी और सरकारी अस्पतालों को अलर्ट कर दिया गया था। समारोह के दौरान कड़ी धूप व गर्मी के कारण एक लड़की अचेत होकर गिर पड़ी। एक पुलिस जवान भी गिर गया। मौके पर तैनात चिकित्‍सकों ने उन्‍हें तत्‍काल मेडिकल सहायता दी। 

परेड में शामिल हुईं 17 टुकडिय़ां

समारोह के दौरान परेड में सीआरपीएफ, सीआइएसएफ, एसएसबी (पुरुष), एसटीएफ, बीएमपी, बीएमपी (महिला बटालियन), जिला शस्त्र बल (पुरुष व महिला), गृृह रक्षा वाहिनी ग्रामीण, गृृह रक्षा वाहिनी शहरी, एनसीसी आर्मी, (ब्वाॅयज), एनसीसी आर्मी (गर्ल्‍स), एनसीसी एयरफोर्स, एनसीसी नेवी, स्काउट एवं गाइड (ब्वाॅयज), स्कॉउट्स एवं गाइड्स, श्वान दस्ता, फायर ब्रिगेड की 17 टुकडिय़ां परेड में शामिल रहीं। परेड कमांडर आइपीएस जीतेंद्र कुमार, जबकि सेकेंड इन कमांड सूबेदार राजेंद्र प्रसाद सिंह थे।

 इनमें बेस्‍ट परेड के लिए प्रोफेशनल कैटेगिरी में सीआरपीएफ तथा नन प्रोफेशनल कैटेगिरी में एनसीसी एयरफोर्स को चुना गया। बेस्‍ट टर्न आउट के लिए प्रोफेशनल कैटेगिरी में एसएसबी तथा नन प्रोफेशनल कैटेगिरी में एनसीसी नेवी बवॉयज को चुना गया। बेस्‍ट प्‍लाटून के पुरस्‍कार प्रोफेशनल कैटेगिरी में एसटीएफ तथा नन प्रोफेशनल कैटेगिरी में बिहार स्‍काउट एंड गाइड गर्ल्‍स को चुना गया। 

आकर्षण का केंद्र बनीं झांकियां 

स्वतंत्रता दिवस समारोह पर गांधी मैदान में 14 झांकियां प्रस्तुत की गईं। इनमें पहले तीन स्‍थान पर ये रहीं… 

1. बिहार शिक्षा परियोजना परिषद्: ‘मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना’ – प्रथम 
2. राज्य स्वास्थ्य समिति: ‘चलो टीका लगवाएं’ – द्वितीय 
3. बिहार पुलिस भवन निर्माण निगम: ‘महिला सशक्तीकरण एवं इंन्फॉरमेंशन टेक्नोलॉजी के बढ़ते कदम’ 
– जीविका: ‘सतत् जीविकोपार्जन योजना’ – तृतीय 

इनके अलावा ये झांकियां भी आकर्षक का केंद्र बनीं रहीं… 

– कृषि विभाग: ‘बिहार का गौरव: मखाना’ 
– महिला विकास निगम: ‘दहेज प्रथा एवं बाल विवाह’ 
– उद्योग विभाग (उपेन्द्र महारथी शिल्प अनुसंधान संस्थान): ‘मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति एवं जनजाति उद्यमी योजना’ 
– पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग:’प्लास्टिक भगाओ, पशु बचाओ’ 
– पंचायती राज विभाग: ‘मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निश्चय योजना’ 
– मद्य निषेध, उत्पाद एवं निबंधन विभाग : ‘मद्य निषेध’ से राज्य में आए बदलाव 
– पर्यटन निदेशालय: ‘घोड़ा कटोरा में स्थापित बुद्ध की प्रतिमा’ 
– कला संस्कृति एवं युवा विभाग:  ‘विजयोत्सव के 160 वर्ष’ 
– सहकारिता विभाग: सब्जी को मार्केट उपलब्ध कराने, बिहार राज्य फसल सहायता योजना और तथा पैक्सों में कृषि संयंत्र बैंक की स्थापना’ पर आधारित झांकी 
– नगर विकास एवं आवास विभाग: ‘स्मार्ट सिटी’ 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

CM त्रिवेंद्र सिंह रावत का बड़ा बयान, कहा- एक देश एक चुनाव का संकल्प जरूरी

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एक देश एक