Home > राष्ट्रीय > विपक्ष के हंगामे से आज भी बाधित हो सकती है संसद की कार्यवाही

विपक्ष के हंगामे से आज भी बाधित हो सकती है संसद की कार्यवाही

संसद में आज बुधवार को भी शोर-शराबा और हंगामे होने के आसार हैं। कई मुद्दों पर सरकार को चौतरफा घेरने की विपक्ष की कोशिश जारी है। हालांकि, इसकी वजह से संसद की कार्यवाही लगातार बाधित हो रही है।

वहीं, वाईएसआर कांग्रेस और तेलुगू देसम पार्टी की केंद्र सरकार के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव पेश करने की मंशा पर भी लगातार पानी फिर रहा है। आंध्र प्रदेश को विशेष राज्‍य का दर्जा नहीं दिए जाने से नाराज चल रहीं दोनों पार्टियों की आज फिर लोकसभा में अविश्‍वास प्रस्‍ताव पेश करने की कोशिश रहेगी।

संसद का बजट सत्र पिछले कुछ दिनों से लगातार हंगामे की भेंट चढ़ रहा है। राज्‍यसभा और लोकसभा दोनों सदनों में लगातार कार्यवाही कई मुद्दों के कारण हंगामा होने की वजह से बाधित हो रही है। मंगलवार को लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही ‘वी वांट जस्टिस’ के नारे लगाए जाने लगे, जिसके बाद सदन की कार्यवाही पहले 12 बजे तक के लिए और फिर दिन भर के लिए स्‍थगित कर दी गई थी।

वहीं, राज्‍यसभा में भी कोई काम नहीं हो पाया और हंगामे के बाद कार्यवाही पूरे दिन के लिए स्‍थगित कर दी गई। विपक्ष ने राज्‍यसभा में लगातार हो रहे गतिरोध के लिए केंद्र की मोदी सरकार को जिम्‍मेदार ठहराया।

आधार कार्ड में चेंज करवाना है मोबाइल नंबर, तो अपनाये ये आसान तरीका..

राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने सदन की कार्यवाही में गतिरोध के लिए सरकार को दोषी ठहराते हुए कहा, ‘देखिए, हम नहीं चाहते कि सदन में सिर्फ हंगामा हो और कार्यवाही बाधित होती रहे। हम तीन मुद्दों पर चर्चा करना चाहते हैं।

इनमें से एक है बैंकिंग धोखाधड़ी, जिसमें अरबों रुपए सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों से गायब हो गए। दूसरा, आंध्र प्रदेश को विशेष राज्‍य का दर्जा देने का मुद्दा और तीसरा कावेरी जल प्रबंधन का है। मगर, ऐसा लगता है कि सरकार इन मुद्दों पर चर्चा करने से बच रही है।

Loading...

Check Also

योगी के मंत्री राजेंद्र सिंह ने अर्दली से साफ कराई सैंडल

योगी के मंत्री राजेंद्र सिंह ने अर्दली से साफ कराई सैंडल

प्रदेश के कैबिनेट मंत्री राजेंद्र सिंह उर्फ मोती सिंह अपने अर्दली से सैंडल में लगी …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com